द्विपक्षीय सहयोग मजबूत बनाने वियतनाम पहुंचे अमेरिकी रक्षा सचिव

0
99

हनोइ। अमेरिका के रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन (Lloyd Austin) ने गुरुवार को अपने वियतनाम के समकक्ष फान वान गियांग से मुलाकात की। इसके बाद उनका अगला पड़ाव फिलीपींस (Philippines) है। बता दें कि ऑस्टिन के इस दौरे का मकसद चीन के साथ क्षेत्रीय विवाद में फंसे दक्षिण पूर्व एशियाई देशों में से एक वियतनाम के साथ संबंधों को मजबूती प्रदान करना है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के मंत्रिमंडल के सदस्य के तौर पर ऑस्टिन का यह पहला वियतनाम दौरा है।

सिंगापुर में एक संबोधन के दौरान ऑस्टिन ने चीन के साथ रचनात्मक, स्थिर संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्धता जाहिर की इसमें पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के साथ मजबूत संचार भी शामिल है। हालांकि ऑस्टिन ने इस बात पर फिर से जोर दिया पूरे दक्षिण चीन सागर पर बीजिंग के दावे का अंतरराष्ट्रीय कानून में कोई आधार नहीं है। उन्होंने कहा कि अमेरिका अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत अपने अधिकारों को बरकरार रखने में क्षेत्र के तटीय देशों का समर्थन करना जारी रखे हुए है और जापान तथा फिलीपींस के साथ अमेरिका की रक्षा संधि दायित्वों के लिए प्रतिबद्ध है।

ऑस्टिन ने कहा, ‘दुर्भाग्य से, विवादों को शांतिपूर्ण ढंग से सुलझाने और कानून के शासन का सम्मान करने की बीजिंग की अनिच्छा सिर्फ सागर को लेकर नहीं हो रही है।’ उन्होंने कहा, ‘हमने भारत के खिलाफ चीन की आक्रामकता भी देखी है, सैन्य गतिविधि को अस्थिर करना और ताइवान के लोगों के खिलाफ अन्य प्रकार का उत्पीड़न और शिनजियांग में उइगर मुसलमानों के खिलाफ नरसंहार और मानवता के खिलाफ अपराध आदि भी देखा है।’