ukraine russia war: खेरसॉन से रूस की वापसी, जंग के बीच मिली जीत से खुश नहीं यूक्रेन; पुतिन की नई चाल का डर

0
63

इस बीच यूक्रेन के दूसरे बड़े शहर खेरसॉन को रूसी सैनिकों ने छोड़ना शुरू कर दिया है। इस कदम के साथ हालांकि यूक्रेन और रूस के बीच जंग खत्म होने के आसार नजर रहे हैं लेकिन, यूक्रेन को अभी भी डर सता रहा है।

ukraine russia war: पिछले 9 महीने से यूक्रेन के कई खूबसूरत शहर रूसी सैनिकों की बर्बरता में जल रहे हैं। लाखों की संख्या में लोग पलायन कर चुके हैं। इस बीच यूक्रेन के दूसरे बड़े शहर खेरसॉन को रूसी सैनिकों ने छोड़ना शुरू कर दिया है। इस कदम के साथ हालांकि यूक्रेन और रूस के बीच जंग खत्म होने के आसार नजर रहे हैं लेकिन, यूक्रेन को अभी भी डर सता रहा है। यूक्रेन का मानना है कि इसके पीछे रूस की चाल हो सकती है। यूक्रेन को डर है कि रूस उसके सबसे बड़े दुश्मन बेलारूस के साथ बड़ी प्लानिंग में है।

रूस के रक्षा विभाग ने यूक्रेनी शहर खेरसॉन को लेकर बयान दिया कि उसने यूक्रेन के दक्षिणी शहर खेरसॉन से अपने सैनिकों को निकालना शुरू कर दिया है। दरअसल, रूस को यह बयान तब जारी करना पड़ा जब यूक्रेनी अधिकारियों ने रूस के इस दावे पर संदेह जताया कि यह रूस की चाल हो सकती है।

राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की के एक सलाहकार मायखाइलो पोडोलीक ने कहा कि उन्होंने ऐसा कोई संकेत नहीं देखा है कि रूस पूरी तरह से शहर छोड़ रहा है। उन्होंने कहा, “इसका मतलब है कि ये बयान दुष्प्रचार हो सकते हैं। रूसी समूह का एक हिस्सा शहर में अभी भी छिपा हुआ है और अतिरिक्त भंडार क्षेत्र के लिए खुद को चार्ज करने की कोशिश में है।”

रूस के कदम से खत्म हो जाएगा वॉर
रूस की सेना ने बुधवार को दावा किया था कि वह अपने कब्जे वाली एकमात्र यूक्रेनी क्षेत्रीय राजधानी से हट जाएगी। रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु ने कहा कि उन्होंने रूसी सैनिकों को दक्षिणी शहर के पास यूक्रेनी हमलों का सामना करने के लिए निप्रो नदी के पश्चिमी तट से हटने का आदेश दिया था। रूस की यह घोषणा काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही है, इस कदम से ऐसी संभावना है कि अब वॉर खत्म हो सकता है। अमेरिका ने रूस की घोषणा का स्वागत किया और कहा कि वॉर खत्म करने की दिशा में यह बड़ा कदम हो सकता है।

बेलारूस के साथ बड़ी प्लानिंग में रूस!
रूस के इस बड़े कदम से भले ही अमेरिका संतुष्ट नजर आ रहा हो लेकिन, यूक्रेन खुश नहीं है। यूक्रेन को अभी भी डर सता रहा है कि यह रूस की बड़ी चाल हो सकती है। हाल ही में रूस ने यूक्रेन के सबसे बड़े दुश्मन बेलारूस के साथ मिसाइल और सैनिक युद्धाभ्यास पर मुहर लगाई थी। यूक्रेन को डर है कि जंग में बेलारूस भी रूस के साथ आ सकता है।

खेरसॉन में रूस को मुंह की खानी पड़ी
गौरतलब है कि जंग के दौरान यूक्रेन और रूसी सैनिकों के बीच सबसे बड़ी जंग खेरसॉन में देखने को मिली थी। राजधानी कीव पर कब्जे में नाकाम रहने के बाद रूसी सैनिकों ने यूक्रेन के दूसरे बड़े शहर खेरसॉन पर कब्जा किया था। मिसाइल अटैक और अत्याधुनिक हथियारों से लैस रूसी सैनिकों ने यूक्रेन के इस शहर में भारी तबाही मचाई थी। हाल ही के महीनों में यूक्रेनी सेना ने खेरसॉन पर कब्जा वापस ले लिया था, जिसके बाद से यहां रूसी सैनिक संघर्ष करते हुए नजर आ रहे थे। हजारों की संख्या में अपने सैनिकों की जान गंवाने के बाद रूस ने अपनी सेना को यहां से पीछे हटने का आदेश दे दिया है।