US: राष्ट्रपति चुनाव के लिए माइकल ब्लूमबर्ग ने पेश की दावेदारी

0
106

अमेरिका में अगले साल होने जा रहे राष्ट्रपति चुनावों के लिए न्यूयॉर्क सिटी के पूर्व मेयर माइकल ब्लूमबर्ग ने रविवार को ऐलान कर दिया कि वे लड़ेंगे. उन्होंने चुनाव में प्रत्याशी बनने के लिए औपचारिक रूप से दावेदारी भी पेश कर दी है. माइकल ब्लूमबर्ग की ख्याति जलवायु परिवर्तन के खिलाफ काम करने वाले कार्यकर्ता के तौर पर रही है.

माइकल ब्लूमबर्ग भारत और अमेरिका के बीच अच्छे संबंधों की वकालत भी करते आए हैं. अमेरिकन मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक माइकल ब्लूमबर्ग राष्ट्रपति चुनावों में डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से आधिकारिक प्रत्याशी बनने की आखिरी दौड़ में शामिल होने वाले नेता हैं. 77 वर्षीय ब्लूमबर्ग की किस्मत पर फैसला अगले साल फरवरी में होगा.

दरअसल अमेरिका में प्रत्याशी चुनने का काम 2020 में 3 फरवरी से अयोवा कॉकस की प्राइमरी में वोटिंग के बाद ही होगा. माइकल ब्लूमबर्ग का झुकाव भारत की तरफ हमेशा से रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मित्र के तौर पर नजर आने वाले ब्लूमबर्ग बीते कई सालों से लगातार भारत आते रहे हैं.

माइकल ब्लूमबर्ग ने अपनी दावेदारी पर कहा, ‘मैं डोनाल्ड ट्रंप को हराने और अमेरिका का दोबारा निर्माण करने के लिए राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव लड़ना चाहता हूं. हम और चार साल तक प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप के बिना सोचे-समझे और अनैतिक कदमों को नहीं सह सकते. उन्होंने हमारे देश के अस्तित्व और मूल्यों के लिए खतरा पैदा किया है .’

ब्लूमबर्ग का कहना है कि ट्रंप के दोबारा जीतने से अमेरिका को इतना नुकसान होगा, जिसकी भरपाई नहीं की जा सकेगी. उन्होंने डोनाल्ड ट्रंप की जीत को खतरनाक भी बताया है. माइकल ब्लूमबर्ग ने दावा किया है कि चुनाव में उन्हें जीत हासिल होगी जिससे अमेरिका का फिर से विकास होगा. माइकल ब्लूमबर्ग को अपनी जीत पर भरोसा है. उनका दावा है कि प्रशासनिक, कारोबारी और परोपकारी अनुभव चुनाव जीतने में उनकी मदद करेगा.