पश्चिमी नेपाल के विभिन्न हिस्सों में कुदरत का कहर, भूस्खलन से 12 लोगों की मौत और 19 लापता

0
78

पश्चिमी नेपाल के विभिन्न हिस्सों में हुए भूस्खलन की वजह से कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई, जबकि 19 लोग लापता हैं। इस बीच, जोगीमारा इलाके में हुए एक भूस्खलन ने पश्चिमी नेपाल में पृथ्वी राजमार्ग को बाधित किया है। पिछले 48 घंटों से जारी बारिश के कारण नारायणी और देश की अन्य प्रमुख नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि मानसून की बारिश अगले तीन दिनों तक जारी रहेगी।यह जानकारी शुक्रवार को पुलिस ने दी। कास्की जिले के पोखरा शहर के सारंगकोट और हेमजान क्षेत्रों में भूस्खलन के कारण तीन बच्चों सहित सात लोगों की जान चली गई।

पुलिस ने कहा कि पांच लोग शुक्रवार को पोखरा में सारंगकोट इलाके में एक मकान में भूस्खलन के कारण मारे गए थे। उन्होंने बताया कि एक ही घटना में लगभग 10 लोग घायल हो गए और विभिन्न अस्पतालों में उनका इलाज चल रहा है।

वहीं, गुरुवार रात को भूस्खलन की दो अलग-अलग घटनाओं में लामजुंग जिले के बिसशहर में एक परिवार के तीन सदस्यों की मौत हो गई और रुक्म जिले के आथबिस्कॉट इलाके में दो अन्य लोगों की जान चली गई। इस बीच, जाजोरकोट जिले में भूस्खलन से दो घर बह जाने से 12 लोग लापता हो गए। मायागड़ी जिले में एक भूस्खलन से उनके घर के बह जाने के बाद सात लोग लापता थे।