कैलिफोर्निया में जंगलों में लगी आग में वन्‍य जीवों को रिकॉर्ड क्षति, चिंतित हुए गवर्नर गाविन न्यूजोम

0
309

वाशिंगटन। कैलिफोर्निया के गवर्नर गाविन न्यूजोम ने कहा कि इस वर्ष जंगलों में लगी आग में वन्‍य जीवों को रिकॉर्ड क्षति पहुंची है। इस आग बड़े पैमाने पर तबाही मचाई है। न्यूजोम ने कहा कि 2020 में आग ने अब तक 20.3 लाख एकड़ भूमि को नष्‍ट कर दिया है। यह एक वर्ष का रिकॉर्ड है। 2019 में 118,000 एकड़ भूमि में आग का विस्‍तार था। कैलिफोर्निया के वानिकी और अग्नि सुरक्षा विभाग के अनुसार सोमवार को सैन डिएगो काउंटी में आग 17,000 एकड़ से अधिक भूमि में फैल गई। वानिकी और अग्नि सुरक्षा विभाग के अनुसार यह इस मौसम की सबसे भीषण आग है। इस आग में 8 लोगों की मौत हो चुकी है। इससे करीब 3,300 भवन ध्‍वस्‍त हो चुके हैं।

जंगल में लगी इस मौसम की सबसे बड़ी दुर्घटना

कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय एवं लॉस एंजिल्स के जलवायु वैज्ञानिक डैनियल स्वैन का कहना है कि जंगल में लगी इस मौसम की सबसे बड़ी दुर्घटना है। इसने एक नया रिकॉर्ड बनाया है। स्वैन ने ट्विटर पर लिखा है कि यह अविश्‍सनीय है। यह अत्‍यधिक तीव्र है। आग की लपटों ने यहां के वन्‍यजीवों पर नया संकट पैदा किया है। वन विभाग के अनुसार कैलिफोर्निया में लगी इस भीषण आग को काबू पाने के लिए 14,100 से अधिक अग्निशामक दल के लोग जूझ रहे हैं।

कैलिफोर्निया राज्य में आपातकाल लागू

कैलिफोर्निया के गवर्नर गाविन न्यूजोम ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि हम ऐसी आग का अनुभव कर रहे हैं, जिसे हमने कई सालों तक नहीं देखा है। न्‍यूजोम ने कहा कि आग पर काबू पाने के लिए दूसरे राज्‍यों से मदद ली जा रही है। दमकल की 375 गाड़ियां राज्य के बाहर से मंगाई गई है। उन्‍होंने कहा कि भीषण गर्मी और बिजली के तूफानों के अस्थिर मिश्रण के कारण आग की घटनाएं हुईं है। आग के चलते राज्य में आपातकाल लागू है। गवर्नर ने कई काउंटियों में बचाव कार्य के आदेश दिए और साथ साथ ज्यों से मदद की गुहार लगाई है।

हादसे का शिकार हुआ सहयोग मेंं गया हेलीकॉप्टर

मध्य कैलिफोर्निया में एक हेलीकॉप्टर जंगलों की आग को काबू करने में जुटा था कि तभी वह हादसे का शिकार हो गया है। कैलिफोर्निया के वन विभाग और अग्नि सुरक्षा ने बयान जारी कर कहा कि हेलीकॉप्टर में सिर्फ पायलट सवार था और वह आग बुझाने के मिशन पर था। कैलिफोर्निया के सैकड़ों जंगलों में पिछले 72 घंटों में एक नहीं बल्कि 11,000 आकाशीय बिजलीयां गिरी जिसके बाद 367 आग की घटनाएं हुईं है।