ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन अप्रैल के अंत में भारत दौरे पर

0
73

नई दिल्ली, 5 अप्रैल, —— यूनाइटेड किंगडम के प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन इस महीने के अंत में भारत की यात्रा पर आएंगे।  इस मौके पर उनकी प्रधानमंत्री से मुलाकात होने की संभावना है।  ब्रिटेन-भारत मुक्त व्यापार समझौते पर बातचीत होने की संभावना है।  भारत के प्रधान मंत्री मोदी और यूनाइटेड किंगडम के प्रधान मंत्री ने पिछले साल नवंबर में ग्लासगो जलवायु शिखर सम्मेलन के दौरान मुलाकात की थी।  दरअसल, बोरिस जॉनसन पिछले साल भारत दौरे पर आने वाले थे लेकिन कोरोना वायरस फैलने के कारण उनका दौरा दो बार टाल दिया गया।  भारत को पिछले साल जनवरी में गणतंत्र दिवस समारोह में आमंत्रित किया गया था, लेकिन ब्रिटेन में कोविड के प्रसार के कारण भारत की यात्रा स्थगित कर दी गई थी।

पता चला है कि मोदी को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने पिछले साल यूके की अध्यक्षता में जी7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया था।  मोदी ने मई में एक वर्चुअल समिट में ब्रिटिश प्रधानमंत्री से मुलाकात की थी।  इस अवसर पर ‘व्यापक रणनीतिक साझेदारी’ पर चर्चा की गई।  2030 तक व्यापार को दोगुना करने का निर्णय लिया गया।  यूके और भारत ने स्वास्थ्य, जलवायु, व्यापार, शिक्षा, विज्ञान, प्रौद्योगिकी और रक्षा पर मिलकर काम करने का फैसला किया है।  पिछले महीने ब्रिटेन की विदेश सचिव लिजी ट्रस ने दिल्ली का दौरा किया था।  वह इससे पहले अक्टूबर में भारत आई थीं।  ब्रिगिट के बाद भारत-प्रशांत क्षेत्र में ब्रिटेन के व्यापार के अवसरों को बढ़ावा देने के प्रयासों के तहत ब्रिटिश प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन भारत का दौरा करने के लिए तैयार हैं।

वेंकट, एकबार रिपोर्टर,