अमेरिकी कंपनी ने रातोंरात 2,700 कर्मचारियों को निकाला:मैसेज कर कहा- कल से आने की जरूरत नहीं; ड्राइवर्स को इक्युपमेंट्स तुंरत वापस करने के निर्देश

0
60

अमेरिका के मिसिसिपी में एक फर्नीचर बनाने वाली कंपनी ने रातोंरात अपने 2,700 कर्मचारियों को निकाल दिया। द गार्जियन न्यूजपेपर के अनुसार, यूनाइटेड फर्नीचर इंडस्ट्रीज (UFI) ने 21 नवंबर की आधी रात को कर्मचारियों को SMS और ईमेल किया और उन्हें अगले दिन से काम पर नहीं आने को कहा। इसके अलावा, ड्राइवर्स को इक्युपमेंट्स तुंरत वापस करने के निर्देश दिए गए हैं। UFI को बजट फ्रेंडली सोफा और रेक्लाइनर बनाने के लिए जाना जाता है।

न्यूयॉर्क पोस्ट के मुताबिक, कंपनी की ओर से कर्मचारियों को भेजे गए मैसेज में कहा गया, ‘बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स के निर्देश पर… हमें ये बताते हुए दुख हो रहा है कि बिजनेस में अचानक ऐसे हालात बन गए हैं, जिसका हमें अंदाजा नहीं था। इसके कारण कंपनी को अपने सभी कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का मुश्किल फैसला लेना पड़ रहा है। एक और ईमेल में कहा गया कि आपको परमानेंटली निकाला जा रहा है और आपकी सभी सुविधाओं को खत्म कर दिया गया है।

दो दशक पुरानी कंपनी ने अचानक बंद किया काम
कंपनी ने तत्काल प्रभाव से अपने ड्राइवर्स को इक्युपमेंट, इन्वेंट्री और डिलीवरी डॉक्यूमेंट्स वापस करने का निर्देश दिया। कर्मचारियों को इस बात का कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया गया कि उन्हें अचानक से क्यों हटाया गया। दो दशक पुरानी इस कंपनी ने अचानक अपना काम बंद कर दिया है

कंपनी ने कर्मचारियों को निकालने को लेकर कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया है।
गर्मियों में निकाले थे बड़े अधिकारी
न्यूयॉर्क पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार, गर्मियों के दौरान, कंपनी ने अपने चीफ एग्जीक्यूटिव,चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर और सेल्स के एग्जीक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट को निकाल दिया था। UFI के एक प्रवक्ता ने बताया कि कर्मचारियों को बाद में बताया गया कि वे अपना सामान वापस लेने के लिए ऑफिस आ सकते हैं।

कंपनी के खिलाफ मुकदमा दायर
नौकरी से निकाले गए एक कर्मचारी ने बताया कि यह उन कर्मचारियों के लिए सही नहीं है, जिन्होंने मेहनत की है। यह उस मां के लिए सही नहीं है, जिसने अभी-अभी एक बच्चे को जन्म दिया है। केमो करा रहा कैंसर रोगी कैसे इलाज करवाएगा। एक पूर्व कर्मचारी टोरिया नील, जिन्होंने UFI के लिए 8 साल से ज्यादा समय तक काम किया, ने कंपनी के खिलाफ मुकदमा दायर किया। उन्होंने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि कंपनी ने फेडरल वर्कर एडजस्टमेंट एंड री ट्रेनिंग नोटिफिकेशन (WARN) एक्ट का उल्लंघन किया।

WARN एक्ट का उल्लंघन
मिसिसिपी के बूनेविले में स्थित लैंगस्टन एंड लोट ने भी इस मामले को लेकर यूनाइटेड फर्नीचर इंडस्ट्रीज के खिलाफ शिकायत दर्ज की है। लैंगस्टन एंड लॉट के वकील जैक सिम्पसन ने बताया, ‘WARN अधिनियम के तहत, यूनाइटेड फर्नीचर के कर्मचारी या तो 60 दिन के नोटिस या 60 दिनों के पैसे मिलने के हकदार थे , लेकिन उन्हें कुछ नहीं दिया गया। अगर इस पर जल्द फैसला नहीं किया गया तो हम UFI के एक्शन पर जांच और बर्खास्त किए गए कर्मचारियों के कानूनी रूप से ज्यादा मुआवजे की मांग करेंगे।