पहली बार मांकडिंग में हुए बदलाव पर बोले अश्विन, गेंदबाजों को दिया ये खास संदेश

0
65

नई दिल्ली। क्रिकेट से जुड़े नियम बनाने वाली संस्था मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने हाल ही में क्रिकेट के नियमों में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव किए थे। इसमें सबसे ज्यादा चर्चा मांकडिंग को लेकर हुई थी। अब इस नियम में हुए बदलाव को लेकर रविचंद्रन अश्विन की प्रतिक्रिया सामने आई है। उन्होंने कहा कि वास्तविक रूप से अनफेयर बल्लेबाजों को क्रीज छोड़ कर बाहर जाना है न कि गेंदबाजों का उन्हें आउट करना।

अपने यूट्यूब चैनल के माध्यम से अश्विन ने खुलकर इस पर अपनी बात कही।

गेंदबाजों को दिया खास संदेश

अश्विन ने मांकडिंग को लेकर गेंदबाजों के नाम दिए गए संदेश में कहा कि ‘मेरे प्यारे गेंदबाज प्लीज समझिए नान स्ट्राइकर का एक्सट्रा स्टेप आपके पूरे करियर को खत्म कर सकता है। यदि वे ऐसा करके स्ट्राइक पर चले गए तो हो सकता है अगली गेंद पर वो आपको छक्का मार दें। लेकिन यदि ऐसा नहीं हुआ तो आपके पास स्ट्राइकर को आउट करने का मौका होगा और यदि आप विकेट लेंगे तो आपका करियर ऊपर जाएगा जबकि यदि आपकी गेंद पर छक्के पड़ेंगे तो करियर नीचे जाएगा’ इसलिए इसका प्रभाव बहुत बड़ा है’

आपको बता दें कि इस नियम में बदलाव के बाद सबसे ज्यादा सुर्खियों में रहने वाले खिलाड़ी अश्विन ही थे। उन्होंने आइपीएल 2019 के दौरान राजस्थान रायल्स के खिलाफ मैच के दौरान जोश बटलर को मांकडिंग करने की कोशिश की थी। उस वक्त अश्विन के इस कोशिश को क्रिकेट जानकारों ने खेल भावना के खिलाफ माना था लेकिन अब इसे रन आउट की श्रेणी में शामिल कर लिया गया है।

इस नियम के बदलाव के बाद कई क्रिकेटरों ने इसका खुले तौर पर समर्थन किया। सचिन तेंदुलकर ने भी इस बदलाव को अच्छा बताया और कहा कि वे हमेशा से इसको मांकडिंग कहने पर अनकंफरटेबल महसूस करते थे। इस बदलाव के बाद विरेंद्र सहवाग ने भी अश्विन को टैग करके अपनी प्रतिक्रिया दी थी। उन्होंने लिखा था कि अब ये रन आउट की श्रेणी में आ गया है एक बार करना जरूर। एमसीसी द्वारा किए गए ये बदलाव अक्टूवर 2022 से लागू होंगे।