बांग्लादेश के बल्लेबाज ने कहा- मैं पोलार्ड या रसेल नहीं हूं, अपनी ताकत के हिसाब से खेलता हूं

0
262

ढाका। बांग्लादेश टीम के मध्य क्रम के बल्लेबाज मुशफिकुर रहीम ने भले ही श्रीलंका के खिलाफ अर्धशतक जमाया हो, लेकिन विकेटकीपर बल्लेबाज ने स्वीकार किया कि रविवार को यहां श्रीलंका के खिलाफ पहले वनडे में पिच पर बल्लेबाजी करना आसान नहीं था। मुशफिकुर और महमुदुल्लाह ने अर्द्धशतक लगाए और फिर मेहदी हसन ने चार विकेट हासिल कर बांग्लादेश को पहले वनडे में श्रीलंका के खिलाफ 33 रनों से जीत दिलाने में मदद की।

तमीम इकबाल, मुशफिकुर रहीम और महमदुल्लाह के अर्धशतकों के अलावा धीमी रन गति के बावजूद बांग्लादेश ने 257 रन का स्कोर खड़ा किया। इसके जवाब में श्रीलंकाई टीम 224 रन बनाकर ढेर हो गई और मुकाबला 33 रन हार गई। इस मैच में बांग्लादेश के लिए 87 गेंदों में 84 रन की पारी मुशफिकुर रहीम ने खेली। वहीं, जब उनसे धीमी बल्लेबाजी को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि मैं किरोन पोलार्ड और आंद्रे रसेल नहीं हूं, जो पहली गेंद से बड़े शॉट खेलूं।

मैच के बाद मुशफिकुर रहीम ने कहा, “इस विकेट पर बल्लेबाजी करना आसान विकेट नहीं था। शाकिब, लिटन जब जल्दी आउट हुए तो दबाव था। तमीम ने अच्छी बल्लेबाजी की, मुझे अपना समय लेने दिया। और फिर रियाद भाई शानदार थे। मैं बिग मैन नहीं हूं, पोलार्ड या रसेल नहीं हूं, मैं अपनी ताकत पर टिका रहा, अपना समय लिया।” उन्होंने आगे बताया कि उनकी जिम्मेदारी एक छोर संभाले रखने की थी। उन्होंने ऐसा ही किया और टीम को अच्छी स्थिति में पहुंचाया।

रहीम ने आगे बताया, “मुझे एक छोर सुरक्षित रखना था और मैंने यही किया। रियाद और अफिफ का फिनिशिंग टच शानदार था। ये स्थितियां खेलने के लिए आदर्श नहीं हैं, यह सिर्फ गर्मी नहीं है, बल्कि नमी भी है, जो परेशान करती है, लेकिन हमारे खिलाड़ियों को श्रेय दिया जाना चाहिए।” इस मैच को जीतकर तीन मैचों की वनडे इंटरनेशनल सीरीज में मेजबान बांग्लादेश ने 1-0 की बढ़त बना ली है। दूसरा मैच 25 मई को ढाका में ही खेला जाएगा।