‘रिटायरमेंट की बात सुनते ही भड़क जाते हैं MS Dhoni, देश के लिए खेलने की इच्छा कायम’

0
143

नई दिल्ली। महेंद्र सिंह धौनी भारतीय क्रिकेट इतिहास के सबसे सफल कप्तान हैं और इसमें कोई शक भी नहीं है। धौनी के खेल पर उनकी बढ़ती उम्र का असर जरूर पड़ा है, लेकिन देश के लिए खेलने का जज्बा उनके मन में अभी भी कायम है। साल 2019 वनडे विश्व के सेमीफाइनल में धौनी के आउट होने के साथ ही भारत का फिर से विश्व कप जीतने का सपना टूट गया था, लेकिन उसके बाद से क्या किसी को पता था कि भारत का सबसे सफल कप्तान टीम में वापसी के लिए इस कदर बेसब्री से इंतजार करेगा।

सच तो ये है कि अगर धौनी भारतीय टीम के लिए नहीं खेलना चाहते तो वो कोई बड़ा फैसला कर लेते पर शायद ऐसा नहीं है। उन्हें आइपीएल का इंतजार है जो इस वक्त 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित है। आइपीएल धौनी की वापसी के लिए बड़ा प्लेटफॉर्म साबित हो सकता है, लेकिन ये कब होगा इस पर संशय कायम है तो क्या धौनी की वापसी अब टीम इंडिया में नहीं हो पाएगी और वो जल्दी ही संन्यास ले लेंगे। इस बात से फिलहाल तो पर्दा उठ गया है कि अपने संन्यास या रिटायमेंट के बारे में वो क्या सोचते हैं।

धौनी रांची से हैं और उनके एक दोस्त जो यहीं से ताल्लुक रखते हैं उन्होंने एक टीवी चैनल से बात करते हुए साफ किया कि माही अभी संन्यास के बारे में नहीं सोच रहे हैं और वो अभी भी भारत के लिए खेलना चाहते हैं। धौनी के मित्र ने बताया कि जब भी कोई माही से संन्यास के बारे में बात करता है तो वो गुस्सा हो जाते हैं। उन्होंने कहा कि धौनी पिछले कुछ महीनों से काफी कड़ी ट्रेनिंग कर रहे हैं। उन्हें पता है कि वो अब युवा नहीं हैं और इस उम्र में फिटनेस के लिए जो जरूरी है वो सबकुछ कर रहे हैं और खुद को फिट रखने के लिए काफी मेहनत कर रहे हैं। माही का इस वक्त पहला लक्ष्य आइपीएल में बेहतर प्रदर्शन करना है और फिर टीम इंडिया में वापसी पर उनका सारा ध्यान केंद्रित है।