Year Ender 2019: मयंक ने बनाए विराट से भी ज्यादा रन, भारत को मिला बेहतरीन टेस्ट ओपनर

0
119

नई दिल्ली : मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) के तौर पर टीम इंडिया को इस साल यानी 2019 में एक ऐसा ओपनर बल्लेबाज मिला जिनके प्रदर्शन में निरंतरता है। मयंक ने वैसे तो टेस्ट क्रिकेट में अपना डेब्यू साल 2018 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में किया था, लेकिन इस साल यानी 2019 में उन्होंने ये साबित कर दिया कि वो टेस्ट के लिहाज से भारतीय टीम के लिए कितने कारगर हैं। विराट कोहली दुनिया के बेहतरीन टेस्ट बल्लेबाजों में शुमार किए जाते हैं, लेकिन मयंक ने इस साल रन बनाने के मामले में उन्हें भी पीछे छोड़ दिया।

मयंक को 2018-19 में ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टेस्ट टीम में जगह दी गई। उन्होंने साल 2018 में कंगारू टीम के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच भी खेला था और मैच की दोनों पारियों में 76 और 42 रन बनाए। मयंक की इस पारी से उम्मीद जगी और उन्हें अगले टेस्ट में भी मौका मिला जो 3 जनवरी से सिडनी में खेला गया था। इस मैच में मयंक ने 77 रन की पारी खेली। यानी ऑस्ट्रेलिया दौरा मयंक के लिए शानदार रहा पर उनका बेस्ट तो इसी साल आया।

ऑस्ट्रेलिया दौरे से बाद उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए टीम में शामिल किया गया। कैरेबियाई धरती पर दो टेस्ट मैचों में मयंक ने 5,16,55,4 रन की पारी खेली। यानी ये दौरा उनके लिए ज्यादा सफल नहीं रहा, लेकिन भारतीय धरती पर उन्होंने अपने पहले ही टेस्ट मैच यानी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विशाखापत्तनम में 215 रन की पारी खेलकर फिर से खुद को साबित कर लिया। इस टेस्ट के बाद प्रोटियाज के खिलाफ अगले ही मैच में उन्होंने फिर से 108 रन की पारी खेल डाली। हालांकि तीसरे मैच में वो सिर्फ 10 रन ही बना पाए।

एक बार फिर से मयंक ने बांग्लादेश के खिलाफ इंदौर टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ दिया और 243 रन बनाए। यानी घरेलू धरती पर मयंक ने पांच टेस्ट मैचों दो दोहरे शतक और एक शतक ठोक डाले। हालांकि बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट में उन्होंने कोलकाता में 14 रन की पारी खेली। इस साल टेस्ट क्रिकेट में मयंक ने भारत की तरफ से सबसे ज्याद रन बनाए। उन्होंने इस वर्ष खेले 8 टेस्ट मैचों की 11 पारियों में 68.54 की औसत से कुल 754 रन बनाए। इसमें तीन शतक व दो अर्धशतक शामिल थे। उनका बेस्ट स्कोर 243 रन रहा। वहीं टेस्ट में इस साल भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में विराट कोहली तीसरे स्थान पर रहे जिन्होंने 8 टेस्ट में 68 की औसत से 612 रन बनाए। भारत की तरफ से इस मामले में दूसरे स्थान पर अजिंक्य रहाणे रहे जिन्होंने 8 टेस्ट में 71.33 की औसत से 642 रन बनाए।