IPL 2020 में नजर आएंगे द्रविड़ के फैन कार्तिक, 145 kmph की स्पीड से करते हैं बॉलिंग

0
167

हापुड़ : IPL Auction 2020: ‘मंजिल उन्हीं को मिलती है जिनके सपनों में जान होती है, पंखों से कुछ नहीं होता हौसलों से ही उड़ान होती है।’ ये पंक्तियां क्रिकेटर कार्तिक त्यागी पर बिल्कुल सटीक बैठती हैं। हापुड़ के छोटे से गांव धनौरा निवासी किसान योगेंद्र त्यागी के घर जन्मे कार्तिक त्यागी ने अपनी प्रतिभा से पहले अंडर-19 भारतीय क्रिकेट टीम में जगह बनाई और अब आइपीएल में राजस्थान रॉयल्स की टीम में जगह बनाकर हापुड़ का नाम रौशन किया है। राजस्थान रॉयल्स के फ्रेंचाइजियों ने आइपीएल-2020 के लिए कोलकाता में हुई नीलामी में कार्तिक त्यागी को 1.30 करोड़ रुपये में खरीद लिया। इसके बाद कार्तिक त्यागी जल्द ही आइपीएल में कमाल करता दिखाई देगा। फिलहाल वह दक्षिण अफ्रीका में 17 जनवरी, 2020 से आयोजित होने वाले अंडर-19 क्रिकेट विश्वकप टीम में भारतीय टीम की ओर से खेलेगा। कार्तिक की कामयाबी पर उसके परिवार सहित गांव में खुशी का माहौल है।

8 नवंबर, 2000 में गांव धनौरा निवासी किसान योगेंद्र त्यागी के घर जन्मे कार्तिक त्यागी का बचपन से ही क्रिकेट की ओर रुझान था। क्रिकेट में कार्तिक की रुचि देख पिता योगेंद्र त्यागी को समझ आ गया कि इसकी मंजिल क्रिकेट में बड़ा खिलाड़ी बनने की है। उन्होंने कार्तिक को मेरठ स्थित सीवीपीएस एवं भामाशाह पार्क एकेडमी में प्रशिक्षण के लिए भेज दिया।

कई देशों के खिलाफ किया बेहतर प्रदर्शन

यहां से कार्तिक ने प्रतिभा के दम पर यूपी अंडर-14 और अंडर-16 क्रिकेट टीम में जगह बनाई। कुछ माह पहले ही कार्तिक ने अंडर-19 भारतीय क्रिकेट टीम में चयन हुआ था। जहां कार्तिक ने इंग्लैंड, बांग्लादेश, अफगानिस्तान आदि देश की टीमों के खिलाफ खेलते हुए शानदार प्रदर्शन किया। वहीं से चयनकर्ताओं की कार्तिक पर नजर ठहर गई। चयनकर्ताओं ने इसी माह के शुरुआत में कार्तिक को दक्षिण अफ्रीका में होने वाले अंडर-19 विश्वकप के लिए भारतीय क्रिकेट टीम में चयन किया था।

पिता के खुशी से झलके आंसू

कार्तिक का आईपीएल के लिए खरीदे जाने पर चयन होने पर पिता योगेंद्र त्यागी, माता नीलम त्यागी, बहन नंदनी त्यागी और कोच दीपक चौहान में खुशी का माहौल है। बेटे की कामयाबी का समाचार सुनते ही पिता योगेंद्र त्यागी की आंख से खुशी की आंसू झलक गए। उन्होंने कहा कि कार्तिक ने अपनी मेहनत के दम पर पिता के सपनों को सार्थक कर दिया है। एक पिता के लिए इससे ज्यादा खुशी की बात और क्या हो सकती है। वहीं नम आंखों मां नीलम त्यागी ने कहा कि उसके लाल ने आज उसका नाम रौशन कर दिया। उनका सिर फख्र से ऊंचा हो गया है।

गेंदबाजी का जवाब नहीं

145 किलोमीटर प्रति घंटा तक की रफ्तार से गेंदबाजी करने वाले कार्तिक त्यागी से पूर्व भारतीय क्रिकेटर राहुल द्रविड़ काफी प्रभावित हैं। अब कार्तिक त्यागी ने एक और मुकाम को हासिल किया है। कोलकाता में आईपीएल-2020 के लिए राजस्थान रॉयल्स ने 1.30 करोड़ रुपये में बोली लगाकर खरीदा है। ग्राम प्रधान पति योगेश्वर त्यागी का कहना है कि कार्तिक को मैंने कई बार खेलते हुए देखा है। उसकी गेंदबाजी का जवाब नहीं।

कामयाबी का श्रेय घरवालों के अलावा कोच को

कार्तिक त्यागी ने अपनी इस कामयाबी का श्रेय, माता, पिता, बहन और कोच दीपक चौहान को दिया है। पिता योगेंद्र त्यागी ने बताया कि कार्तिक ने बचपन से ही अपने मार्गदर्शक दीपक चौहान को अपनी सफलता का श्रेय देते हुए गुरु एवं शिष्य की भारतीय परंपरा को भी सार्थक किया है। गांव धनौरा में इसको लेकर खुशी माहौल है। हर कोई उसके घर बधाई देने जा रहा था।

बधाई देने वालों का कार्तिक के घर लगा तांता

आइपीएल के लिए राजस्थान रॉयल्स द्वारा कार्तिक त्यागी को 1.30 करोड़ रुपये में खरीदे जाने की खबर गांव में आग की तरह फैल गई। उनके घर पर बधाई देने वालों का तांता लग गया। बधाई देने वालों में ग्राम प्रधान पति योगेश्वर त्यागी, नीटू, कुलदीप, रिंकू, पंकज त्यागी, शिवकुमार त्यागी, अनुज त्यागी, जय त्यागी, शिवराज त्यागी, राकेश त्यागी, जयकेश त्यागी के अलावा गांव के सैकड़ों लोग मौजूद रहे।