‘अगर रोहित शर्मा टेस्ट ओपनिंग में चले तो, वो हो जाएगा जो पहले कभी नहीं हुआ’

0
155

नई दिल्ली : रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को भारतीय टेस्ट टीम (Indian cricket team) में बतौर ओपनर पहली बार जगह दी गई है। इससे पहले वह टीम में तीसरे से छठे स्थान पर खेलते नजर आए हैं। टीम के पूर्व बल्लेबाजी कोच संजय बांगर (Sanjay Bangar) ने रोहित को ओपनिंग के लिए चुने जाने पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उनका मानना है कि अगर रोहित बतौर ओपनर कामयाब हुए तो भारतीय टीम टेस्ट में किसी भी लक्ष्य का पीछा करने में कामयाब हो सकती है।

रोहित शर्मा को भारतीय टेस्ट टीम में ओपनर की जिम्मेदारी खराब फॉर्म में चल रहे केएल राहुल ( KL Rahul) की जगह दी गई है। राहुल पिछली कई सीरीज में भारत को अच्छी शुरुआत दिलाने में नाकाम रहे थे। वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गई हासिला टेस्ट सीरीज की चार पारियों में वह महज 101 रन बना पाए थे।

बांगर ने रोहित को बतौर ओपनर चुने जाने पर कहा, “इस वक्त टेस्ट टीम का मिडिल ऑर्डर काफी अच्छा है और इसमें कहीं कोई जगह नहीं बची है। उनके लिए ओपनिंग एक नई चुनौती होगी क्योंकि उन्होंने अब तक इस फॉर्मेट में ऐसा किया नहीं है। उनको सख्त गेंद का सामना करने का फायदा मिलेगा क्योंकि फील्डिंग पोजीशन में काफी गैप रहेगा। सबसे अहम बात की उनको अपनी बारी के आने का इंतजार भी नहीं करना पड़ेगा जो उनकी मानसिक उर्जा को बचाएगा।“

“अगर वह ओपनिंग में सफल हो जाते हैं तो उनके खेलने का स्टाइल भारतीय टीम को काफी मदद करेगा। इससे ऐसा भी हो सकता है कि भारत उस लक्ष्य को भी हासिल करने में कामयाब हो जो इससे पहले कभी नहीं कर पाया। जैसा भारत के साथ केप टाउन और एजबेस्टन में हुआ था।“

बागर ने रोहित को टेस्ट में अपने ही स्टाइल में बल्लेबाजी की सलाह दी है। “उनकी सफलता इस बात पर निर्भर करेगी कि वह अपनी खुद की स्टाइल में बल्लेबाजी करते हैं या नहीं। उन्हें अपनी खुद के खेलने के तरीके को बनाए रखना होगा।”