IND vs WI: चेन्नई में टीम इंडिया के पक्ष में है रिकॉर्ड, कितना फायदा मिलेगा विराट को

0
102

नई दिल्ली: टी20 सीरीज जीतने के बाद टीम इंडिया (Team India) वेस्टइंडीज के खिलाफ (India vs West Indies) तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलने जा रही है. इस सीरीज की शुरुआत रविवार को चेन्नई में होनी है. चेन्नई के एम सी चिदंबरम स्टेडियम में टीम इंडिया (Team India) का वनडे रिकॉर्ड बहुत अच्छा है जबकि इस मैदान पर वेस्टइंडीज का अनुभव उतना ही खराब है. वैसे दोनों देशों के बीच हुई पिछली सीरीज टीम इंडिया (Team India) ने 2-0 से जीती थी और सीरीज में फिलहाल टीम इंडिया (Team India) ही फेवरेट है.

दो साल में केवल एक ही मैच हारी है टीम इंडिया (Team India)
टीम इंडिया (Team India) पिछले दो सालों से वेस्टइंडीज टीम पर वनडे में हावी ही रही है. दोनों टीमों के बीच अब तक 9 मैच हुए हैं. इनमें से वेस्टइंडीज की टीम केवल एक मैच जीत सकी है. साल 2018 में जब वेस्टइंडीज की टीम भारत दौरे पर आई थी. उस दौरान पांच वनडे मैचों की सीरीज में टीम इंडिया (Team India) ने तीन मैच जीते थे एक मैच वेस्टइंडीज ने जीता था और एक मैच टाई हो गया था. इसके बाद टीम इंडिया (Team India) ने वेस्टइंडीज को आईसीसी विश्व कप में हराया और फिर वेस्टइंडीज दौरे में तीन मैचों की सीरीज में दो मैच जीते जबकि एक मैच बारिश ने धो दिया था.

12 में से सात मैच जीते हैं टीम इंडिया (Team India) ने
अब अगर चेन्नई की बात करें तो टीम इंडिया (Team India) ने चेन्नई में अब तक 12 मैचों में से सात में जीत हासिल की है और उसने चार मैच गंवाए हैं. जबकि एक मैच का नतीजा नहीं निकल सका. वहीं वेस्टइंडीज ने यहां खेले गए अपने छह मैचों में से एक में ही जीत हासिल की है. वहीं बाकी पांच मैचों में उसे हार का सामना करना पड़ा था.

तो फिर चेन्नई में कैसा रहा है दोनों का वनडे मुकाबला
चेन्नई में दोनों टीमें एक दूसरे के खिलाफ चार मैच खेल चुके हैं यहां टीम इंडिया (Team India) ने चार में से तीन मैचों में जीत हासिल की है जबकि वेस्टइंडीज के खाते में एक जीत रही. इन चार मैचों में पिछले दो मैचों में टीम इंडिया (Team India) ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है और उसने इन मैचों में जीत हासिल की है. वहीं उससे पहले के दो मैचों में से एक मैच में टीम इंडिया (Team India) ने टॉस हार कर पहले बल्लेबाजी कर मैच गंवाया जबकि उससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की और मैच जीता था

तो कितनी मदद करेंगे ये आंकड़े
बेशक आज दोनों ही टीमें अलग हैं और माहौल भी, लेकिन चेन्नई की पिच का व्यवहार काफी कुछ मदद कर सकता है चेन्नई में उमस बहुत होती है वह भी हर मौसम में आम तौर पर यहां गर्मी काफी दिक्कत भरी होती है. लेकिन यहां मैच ठंड के मौसम में हो रहा है. पिच बल्लेबाजों के लिए मुफीद होती और बाद में गेंदबाजी करने वाली टीम के स्पिनर्स को पिच से मदद मिलती है. देखना यह है कि पिछले दो मैचों में जिस तरह पिच ने पहले बैटिंग करने वाली टीम की मदद की है, क्या इस बार भी वही होगा. इसके लिए 15 दिसंबर तक इंतजार करना होगा.