Ind vs Aus: भारत के लिए भाग्यशाली नहीं रहा है राजकोट का एससीए स्टेडियम

0
325

मेजबान भारत का सौराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम पर वनडे क्रिकेट में रिकॉर्ड बेहद खराब है क्योंकि इस मैदान पर उसे दोनों मौकों पर पराजय झेलनी पड़ी। भारत ने 11 जनवरी 2013 को एससीए स्टेडियम पर इंग्लैंड के खिलाफ पहला वनडे खेला था जिसमें उसे नौ रन से पराजय झेलनी पड़ी थी। उसके बाद 18 अक्टूबर 2015 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ इसी मैदान पर टीम इंडिया 18 रन से हारी।

ऑस्ट्रेलियाई टीम ने यहां भारत के खिलाफ 10 अक्टूबर 2013 को एक टी-20 मैच खेला जिसमें उसे शिकस्त मिली। राजकोट में पहले मैच एससीए की जगह पुराने स्टेडियम में मैच होते थे। उस स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया ने पहला वनडे अक्टूबर 1986 को खेला था जिसमें उसने सात विकेट से जीत दर्ज की।

भारतीय टीम राजकोट में लगभग चार साल के बाद वनडे मैच खेलने उतरेगी। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस मैदान पर टीम इंडिया पहली बार मैच खेलने उतरेगी। तीन मैचों की वनडे सीरीज में टीम इंडिया फिलहाल 1-0 से पीछे है और उसे सीरीज में बने रहने के लिए राजकोट में जीत दर्ज करनी ही होगी। टीम इंडिया ने पिछले मैच में कुछ प्रयोग किए थे जो टीम के हक में नहीं रहा था।

अब राजकोट वनडे में इस बात की संभावना है कि विराट फिर से नंबर तीन पर जबकि केएल राहुल चौथे स्थान पर बल्लेबाजी के लिए उतर सकते हैं। रिषभ पंत चोटिल हैं तो उनकी जगह हो सकता है कि ऑलराउंडर शिवम दुबे को अंतिम ग्यारह में शामिल किया जाए। शिवम के टीम में आने से बल्लेबाजी के साथ-साथ भारत को गेंदबाजी में भी एक विकल्प उपलब्ध हो जाएगा।

राजकोट वनडे में टीम इंडिया के गेंदबाजों को एक अलग रणनीति के साथ मैदान पर उतरना होगा और उन्हें कंगारू बल्लेबाजों को जल्द आउट करने की कोशिश करनी होगी। फिंच और वार्नर का फॉर्म में एक साथ रहना भारतीय टीम के हित में नहीं है। इन दोनों के बाद भी कंगारू टीम में लाबुशाने और स्मिथ जैसे बल्लेबाज हैं जो कुछ भी कर सकते हैं ऐसे में भारतीय गेंदबाजों को मैच के मध्य में भी विकेट निकालने की कोशिश करनी होगी जिससे कि वो ऑस्ट्रेलिया की टीम को दवाब में ला सकें।