धौनी पर दिए बयान को लेकर ट्रोल हुए गंभीर, यूजर्स ने सुनाई खरी-खरी

0
104

पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। भारत और बांग्लादेश के बीच इंदौर में खेले गए पहले टेस्ट मैच में जलेबी और पोहा खाने के लिए उन्हें जमकर ट्रोल किया गया था। अब हाल ही में गौतम गंभीर ने पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी को लेकर एक बयान दिया है। गंभीर के इस बयान के बाद अब वह एक बार फिर से ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए हैं।

दरअसल, द लल्लनटॉप को दिए एक इंटरव्यू में गौतम गंभीर ने कहा था कि वह आईसीसी वर्ल्ड कप 2011 में अपना शतक पूरा कर लेते अगर धौनी उन्हें याद नहीं दिलाते तो। गौतम गंभीर ने कहा, ”वर्ल्ड कप के दौरान श्रीलंका के खिलाफ फाइनल मैच में मैं 97 रन बनाकर खेल रहा था। उस वक्त धौनी मेरे पाए और उन्होंने मुझसे कहा कि अपना शतक पूरा कर लो।”

गंभीर ने कहा, ”धौनी के याद दिलाने से पहले मेरे जेहन में शतक की बात नहीं थी। मेरा ध्यान श्रीलंका द्वारा दिए गए टारगेट पर था। मुझे याद है जब ओवर खत्म हुआ तो मैं और धौनी क्रीज पर थे। धौनी ने मुझसे कहा कि तुम तीन रन बना लो और अपना शतक पूरा करो।” गंभीर ने कहा, ”यदि धौनी ने मुझे शतक का याद न दिलाया होता तो मैं आसानी से शतक पूरा कर लेता। लेकिन शतक बनाने के चक्कर में मैंने थिसारा परेरा की गेंद पर रैश शॉट खेला और अपनी विकेट गंवा दी।” गौतम गंभीर के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर उन्हें जमकर ट्रोल किया जा रहा है।

बता दें कि इससे पहले भाजपा सांसद गौतम गंभीर पर प्रदूषण पर संसद की स्थाई समिति की बैठक में शामिल होने की बजाय इंदौर में क्रिकेट मैच की कमेंट्री करने में मशगूल रहने का आरोप लगाया था। आम आदमी पार्टी ने उन्हें बैठक की जगह कमेंट्री करने और इंदौर में पोहा-जलेबी खाने को लेकर जमकर ट्रोल किया था। इसका जवाब देते हुए गंभीर ने कहा था कि आप नेता उनके खिलाफ दुष्प्रचार कर रहे हैं।

गंभीर ने इस मामले में सफाई देते हुए टि्वटर पर एक बयान जारी कर कहा कि उनका आकलन आप के असत्य बयान के आधार पर नहीं बल्कि उनके द्वारा किए जा रहे काम के आधार पर उनके संसदीय क्षेत्र के लोग करेंगे। उन्होंने कहा कि वह दिन रात अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों के हित के लिए काम करते हैं और यही लोग उनके काम के आधार पर उनका आकलन करेंगे।