क्या बल्लेबाजों के खाते में जुड़ते हैं सुपर ओवर के रन, जानिए क्या कहता है ICC का नियम

0
144

नई दिल्ली : are super over runs counted: भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेली जा रही 5 मैचों की T20 इंटरनेशनल सीरीज के पिछले दो मैचों का नतीजा टाई रहा है। हालांकि, दोनों ही मैचों का नतीजा इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) के निमयों के आधार पर सुपर ओवर में निकला है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब लगातार दो टी20 मैच टाई हुए हैं।

हैमिल्टन में खेले गए तीसरे T20 मैच और वेलिंग्टन में खेले गए चौथे T20 मैच में भारत ने बाद में बल्लेबाजी करते हुए सुपर ओवर में बाजी मारी, लेकिन क्या आप जानते हैं कि सुपर ओवर में बल्लेबाजों के द्वारा बनाए गए रनों को उनके खाते में जोड़ा जाता या नहीं? अगर नहीं तो आज आपको पता लग जाएगा कि आइसीसी के नियम सुपर ओवर के रनों के बारे में क्या कहते हैं।

T20 क्रिकेट में स्कोर लेवल होने पर मैच होता है टाई

दरअसल, T20 इंटरनेशनल क्रिकेट में जब भी कोई मुकाबला स्कोर बराबर होने के कारण टाई होता है तो उसका नतीजा सुपर ओवर में निकाला जाता है। भारत और मेजबान कीवी टीम के बीच खेली जा रही 5 मैचों की T20 सीरीज के पिछले दो मुकाबलों में यही हुआ है। सुपर ओवर वाले पहले मैच में न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने 17 रन बनाए थे, जिसके जवाब में भारत के बल्लेबाजों ने 20 रन बनाए थे।

वहीं, दूसरे सुपर ओवर टाई में कीवी बल्लेबाजों ने 13 रन बनाए थे, जिसके जवाब में भारतीय टीम के बल्लेबाजों ने 16 रन बनाकर मैच जीत लिया। हैरान करने वाली बात ये है कि पिछले दो मैचों के सुपर ओवरों में बने 46 रन और 1 विकेट को किसी भी खिलाड़ी के खाते में नहीं जोड़ा जाएगा। न रन बल्लेबाज के खाते में जुड़ेंगे और न ही विकेट गेंदबाज के खाते में शामिल की जाएगी।

आइसीसी का ये है नियम

मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (MCC) द्वारा बनाए गए नियमों को आइसीसी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में लागू करता है। इन्हीं में से एक नियम सुपर ओवर वाला है जो T20 इंटरनेशनल क्रिकेट में लागू है। अगर कोई T20 मैच टाई होता है तो ऐसी स्थिति में दोनों टीमों को एक-एक ओवर खेलने के लिए दिया जाएगा, जिसमें जो टीम ज्यादा रन बनाती है उसे विजेता घोषित कर दिया है, लेकिन एक भी रन बल्लेबाज के खाते और एक भी विकेट गेंदबाज के खाते में नहीं जुड़ती है। सुपर ओवर सिर्फ मैच का नतीजा निकालने के लिए आयोजित किया जाता है।

आइसीसी ने सिर्फ टी20 फॉर्मेट के गेम में सुपर ओवर का नियम लागू किया है। वहीं, वनडे क्रिकेट के बड़े टूर्नामेंट जैसे वर्ल्ड कप का फाइनल उन मैचों के लिए सुपर ओवर रखा है। जिस तरह फुटबॉल के गेम में पेनल्टी शूटआउट होता है, उसी तरह क्रिकेट में सुपर ओवर होता है। शूट आउट का गोल फुटबॉलर के खाते में नहीं जुड़ता, वैसे ही क्रिकेटर के खाते में विकेट और रन नहीं जुड़ते। वहीं, अगर सुपर ओवर का मैच भी टाई हो जाता है तो फिर तब तक सुपर ओवर होता है जब तक कि मैच का नतीजा न निकल जाए।