140 साल में नहीं कर पाई कोई टीम, अफगानिस्तान ने महज तीसरे टेस्ट में किया कमाल

0
117

नई दिल्ली । सोमवार को अफगानिस्तान क्रिकेट टीम (Afghanistan Cricket Team) ने बांग्लादेश के खिलाफ 224 रन की ऐतिहासिक जीत दर्ज की। महज तीसरे टेस्ट में उतरी अफगानिस्तान ने कप्तान राशिद खान (Rashid Khan) की शानदार गेंदबाजी के दम पर अनुभवी बांग्लादेश को उसी के घर पर मात दी। अफगानिस्तान की यह तीसरे टेस्ट में दूसरी जीत है। इस जीत के साथ इस उभरती हुई टीम ने एक ऐसा कारनामा कर दिखाया जो 140 साल से किसी टीम ने नहीं किया था।

अफगानिस्तान (Afghanistan) ने चटगांव में खेले गए एक मात्र टेस्ट में मेजबान बांग्लादेश को दूसरी पारी में महज 173 रन पर समेट एक ऐसा कारनामा अंजाम दिया जिसे 140 साल पहले ऑस्ट्रेलिया ने किया था। साल 1979 में ऑस्ट्रेलिया ऐसी टीम बनी थी जिसने अपनी पहली दो टेस्ट जीत के लिए इतने कम मैच खेले। अफगानिस्तान ने सिर्फ तीन टेस्ट खेलते हुए दो जीत दर्ज करने में कामयाबी पाई।

अफगानिस्तान के जीत का सफर

भारत के खिलाफ (India vs Afghanistan) बैंगलुरू में टेस्ट मैच की शुरुआत करने वाली अफगानिस्तान की टीम को पहले मैच में करारी शिकस्त मिली थी। साल 2018 के 14 से 18 जून के बीच खेले गए इस टेस्ट में भारत ने महज दो दिन के भीतर ही अफगानिस्तान के खिलाफ 262 रन की बड़ी जीत हासिल की थी। इसी साल (2019) 15 से 18 मार्च को आयरलैंड के खिलाफ (Afghanistan vs Ireland) खेलते हुए अफगानिस्तान ने 7 विकेट से जीत हासिल की थी। अब बांग्लादेश के खिलाफ जीत हासिल कर अफगानिस्तान ने ऑस्ट्रेलिया के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है।

सबसे कम मैचों में दो टेस्ट जीत

ऑस्ट्रेलिया और अफगानिस्तान की टीम ने 3 मैचों के बाद दो टेस्ट जीत हासिल की। इसके बाद इंग्लैंड का नंबर आता है उसने 4 मैचों के बाद दूसरी टेस्ट जीत हासिल कर ली थी। पाकिस्तान की टीम को 9 टेस्ट खेलने के बाद दूसरी जीत मिली थी जबकि वेस्टइंडीज को 12 मैचों के बाद यह कामयाबी हासिल हुआ। भारत को टेस्ट में अपनी दूसरी जीत के लिए 20 टेस्ट का इंतजार करना पड़ा था।