निजी अस्पतालों को अनुदान देने के पक्ष में नहीं टीएस सिंहदेव, रमन सिंह ने सीएम पर कसा तंज

0
229

रायपुर : ग्रामीण क्षेत्रों के निजी अस्‍पतालों को अनुदान देने को लेकर अब मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल और स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री टीएस सिंहदेव के बीच विवाद हो गया है। दो दिन पूर्व सीएम ने अनुदान देने की बात कही थी। अब स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ही इस फैसले से नाखुश हैं। उन्‍होंने अपनी असहमति जता दी है। सीएम और मंत्री के अलग-अलग बयान आते ही विपक्ष ने सियासी तीर चला दिया है।

पूर्व मुख्‍यमंत्री डाक्‍टर रमन सिंह ने इंटरनेट मीडिया का सहारा लेते हुए सीएम भूपेश बघेल पर तंज कस दिया। कहा-भूपेश बघेल जी की अनुभवहीनता और आत्‍ममुग्‍धता का विरोध तो अब सरकार के ही मंत्री कर रहे हैं। गांवों में सरकारी अनुदान पर निजी अस्‍पताल खोलने के फैसले पर सरकार ही एकमत नहीं है तो इससे स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र का भला कैसे होगा।

बता दें कि स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री टीएस सिंहदेव ने ग्रामीण क्षेत्रों में निजी अस्पताल को अनुदान देने के सरकार के फैसले को उचित नहीं बताया। उन्होंने कहा कि इस विषय को लेकर उनसे चर्चा नहीं हुई है। निजी क्षेत्रों को अनुदान देने के पक्ष में वे नहीं हैं। वे यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम के पक्ष में हैं। सिंहदेव ने कहा कि अंग्रेजी नाम होने की वजह से शायद कुछ लोगों को समझ नहीं आया होगा, लेकिन निजी क्षेत्र ग्रामीण इलाकों में फ्री इलाज नहीं देंगे। अगर लोगों को मुफ्त इलाज नहीं मिलेगा तो अनुदान का उपयोग नहीं होगा। वे ऐसी योजना के पक्ष में नहीं हैं।

अब सप्ताह में चार दिन ही कोरोना का लगेगा टीका

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा है कि प्रदेश में अब सप्ताह में चार दिन ही कोरोना टीकाकरण होगा। सामान्य टीके केवल दो दिन लगाए जाएंगे। रविवार को टीकाकरण बंद रहेगा। उन्होंने कहा कि टीके की कम उपलब्धता और राज्य में प्रतिदिन चार लाख टीके लगाने की क्षमता के चलते टीकाकरण के दिन में कटौती करने की तैयारी है, जिससे कि लोगों का उत्साह बना रहे।

स्वास्थ्य मंत्री टीकाकरण को लेकर मीडिया से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने केंद्र से एक करोड़ वैक्सीन की मांग की थी। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि जुलाई में सिर्फ 20 लाख वैक्सीन ही मिलने की उम्मीद है। ऐसे में टीकाकरण प्रभावित हो सकता है। इसके मद्देनजर ही यह तैयारी की जा रही है।

वैक्सीन के लिए सीएम ने पीएम को लिखा पत्र

छत्तीसगढ़ में कोरोना वैक्सीन को लेकर किल्लत हो गई है। इसके चलते मंगलवार से प्रदेश में टीकाकरण की रफ्तार धीमी पड़ जाएगी। इसे लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने चिंता जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर एक करोड़ डोज देने की मांग की है।