युवक कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के बिगड़े बोल, PM मोदी को डंडा मारने को लेकर कही ये बात

0
371

रायपुर। कांग्रेस ने राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर की तर्ज पर राष्ट्रीय बेरोजगारी रजिस्टर अभियान शुरू किया है। रविवार को छत्तीसगढ़ से इस अभियान का औपचारिक उद्घाटन युवक कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीवी श्रीनिवास और एआइसीसी सचिव व युवक कांग्रेस प्रभारी कृष्णा अल्लावारु ने किया। इस दौरान श्रीनिवास ने राहुल गांधी के विवादित बयान पर पीएम मोदी की टिप्पणी को कोट करते हुए विवादित बयान दिया। उन्होंने कहा कि अगर पीएम मोदी बेरोजगारी, आर्थिक बदहाली जैसे ग्रहण को इसी तरह नजरअंदाज करते रहेंगे तो युवा तो अपना काम करेंगे ही। मोदी अगर डंडा खाने को तैयार हैं तो युवक कांग्रेस उनकी मंशा जरूर पूरी करेगी।

छत्तीसगढ़ में नेशनल रजिस्टर फॉर अनइंप्लायमेंट (एनआरयू) के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि कि इसमें एक टोल फ्री नंबर जारी किया गया है, जिस पर मिस्ड काल करके बेरोजगार अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। युवक कांग्रेस केंद्र की मोदी सरकार को जनता के मूल मुद्दों पर आधारित राजनीति कराने के लिए यह कार्यक्रम शुरू कर रही है, क्योंकि मोदी सरकार और भाजपा बेरोजगारी, गरीबी और किसानों के मुद्दे पर बात नहीं कर रही है।

विधानसभा चुनाव के समय जनता के मुद्दे से ध्यान भटकाकर चुनाव को प्रभावित करने की कोशिशें की जा रही हैं। चार राज्यों में जनता ने भाजपा का सफाया कर दिया है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ग्रहण देखने के लिए ढाई लाख का चश्मा पहनते हैं, लेकिन देश मे लगा ग्रहण नजर नहीं आ रहा है। वे देश में पड़े ग्रहण को देखने के लिए कौन सा चश्मा लाएंगे, बताएं तो युवक कांग्रेस उन्हें खरीदकर देगी। भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा पर निशाना साधते हुए कहा कि उनका दिमाग नहीं ठीक है। उसका इलाज करने का खर्च युवक कांग्रेस उठाने को तैयार है।

देश को नौकरी चाहिए, नौटंकी नहीं मोदीजी : कृष्णा

युवक कांग्रेस प्रभारी कृष्ण अल्लावरू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी टीम जनता को भटकाने का काम करती हैं। जब उनसे रोजगार की बात होती है, तो पाकिस्तान की बात करते हैं। किसानों की आत्महत्या की बात होती है, तो धारा 370 की बात करते हैं। कृष्णा ने कहा कि देश को नौकरी चाहिए और पीएम नौटंकी की बात करते हैं। अगर नौकरी नहीं दे सकते, तो पाकिस्तान में बिरयानी खाने से जनता को क्या मिलेगा।

भाजपा के सांसद सुभाष चंद्र बोस, भगत सिंह, महात्मा गांधी, चंद्रशेखर आजाद की लड़ाई को नौटंकी बताते हैं। साध्वी प्रज्ञा पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रज्ञा कौन होती है। कोई साध्वी कहने से साध्वी नहीं बनता। प्रधानमंत्री संसद में एक घंटे का भाषण देते हैं, लेकिन गांधी पर प्रज्ञा के बयान पर एक शब्द भी नहीं बोलते हैं।

बेटी पढ़ाओ, बेटी पढ़ाओ का पैसा प्रधानमंत्री की होर्डिंग में चला गया। सीएए और एनआरसी से रोजगार मिलता है, तो पीएम की बात सुन सकते हैं। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार ने 15 महीने में पांच लाख रोजगार दिया, लेकिन मोदी 70 महीने में 70 साल पीछे नेहरू की बात करते हैं। पहले पीएम नेहरू ने एक बार भी नहीं कहा कि वे 200 साल का पाप धो रहे है।