एक भी बच्चा निरक्षर तो यह समाज का दुर्भाग्य : CM योगी आदित्यनाथ

0
108

लखनऊ । शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर बेसिक शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट शिक्षण के लिए प्रदेश के 49 शिक्षकों को सम्मानित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद शिक्षक की भूमिका में नजर आए। शिक्षकों को उनकी महती भूमिका के प्रति सचेत करते हुए उन्होंने स्कूलों में बच्चों का शत-प्रतिशत नामांकन सुनिश्चित करने की अपील की। कहा कि यदि एक भी बच्चा स्कूल जाने से वंचित रह जाता है या निरक्षर रह जाता है तो यह सिर्फ उस बच्चे का नहीं बल्कि पूरे समाज का दुर्भाग्य है। यह भी कहने से नहीं चूके कि बेसिक शिक्षा में महिला शिक्षक बेहतर योगदान दे सकती हैं, बशर्ते वे नियमित स्कूल जाएं।

इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित समारोह में योगी ने कहा कि एक बच्चा अपनी मां और प्राथमिक शिक्षा देने वाले शिक्षकों को कभी विस्मृत नहीं कर सकता। परिश्रम और पुरुषार्थ का कोई विकल्प नहीं होता, शिक्षक बच्चों को यह सिखाएं। उन्हें सिर्फ पुस्तकीय ज्ञान तक सीमित न रखकर व्यावहारिक ज्ञान से भी परिपूर्ण करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार 49 पुरस्कृत शिक्षकों में 20 महिलाएं हैं, अगले वर्ष उनकी संख्या पुरुष शिक्षकों से ज्यादा होनी चाहिए। पुरस्कार स्वरूप प्रत्येक शिक्षक को 25 हजार रुपये, अंगवस्त्र, प्रशस्ति पत्र और मां सरस्वती की प्रतिमा भेट की गई।

शिक्षक ट्रेड यूनियन नहीं
योगी ने कहा कि शिक्षक और उनके संघ ट्रेड यूनियन नहीं हैं जिन्हें अपनी मांगें मनवाने के लिए सड़क पर उतरने की जरूरत पड़े। कहा कि हम खुद आपके पास आएंगे। चुटकी लेते हुए यह भी कहा कि शिक्षक पहले जब जनगणना कार्य कराते थे तो जनगणना सटीक होती थी। अब शिक्षक जनगणना नहीं करना चाहते। जब शिक्षक जनगणना नहीं करेंगे तो घर-घर से कैसे जुड़ेंगे।

स्कूलों के विकास के लिए जनसहभागिता जरूरी
मुख्यमंत्री ने शिक्षकों से कहा कि स्कूलों में अवस्थापना विकास के लिए वे सिर्फ सरकारी इमदाद पर निर्भर न रहें बल्कि जनसहभागिता के जरिये संसाधन जुटाएं। उन्होंने सम्मान पाने वाले एक प्रधानाध्यापक को साधुवाद दिया जिन्होंने अपने पास से स्कूल के विकास पर 15 लाख रुपये खर्च किये।

प्रेरणा एप से भ्रष्टाचार पर होगा प्रहार
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से विकसित किये गए प्रेरणा एप का लोकार्पण भी किया। इस एप के जरिये परिषदीय स्कूलों के शिक्षक अपनी व छात्रों की उपस्थिति, मिड-डे मील और स्कूल की अन्य गतिविधियों की जानकारी ऑनलाइन मुहैया करा सकते हैं। शिक्षक के अवकाश भी अब इसके जरिये ऑनलाइन स्वीकृत होंगे।

अफसरों की ठोंकी पीठ
योगी ने बेसिक शिक्षा व्यवस्था में आमूलचूल परिवर्तन और सुधार का श्रेय विभाग के अफसरों को दिया। समग्र शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना निदेशक विजय किरण आनंद की कर्मठता और परिश्रम की भूरि-भूरि प्रशंसा की। कहा कि मेला अधिकारी के रूप में कुंभ के भव्य और दिव्य आयोजन में उनकी बड़ी भूमिका थी। यह भी कहा कि बेसिक शिक्षा निदेशक सर्वेंद्र विक्रम बहादुर सिंह को माध्यमिक शिक्षा विभाग बतौर निदेशक कब से मांग रहा है लेकिन मैं ही उन्हें इस विभाग में रोके हुए हूं।

पुरस्कार के लिए अगली बार ऑनलाइन आवेदन
बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (सवतंत्र प्रभार) डॉ. सतीश चंद्र द्विवेदी ने कहा कि अगले वर्ष से शिक्षक स्वयं पुरस्कार के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। केवल बीएसए के माध्यम से ही आवेदन नहीं लिए जाएंगे। अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा रेणुका कुमार ने समारोह में आए अतिथियों का स्वागत किया और निदेशक बेसिक शिक्षा ने आभार जताया।

पुरस्कार स्वरूप 25 हजार रुपये व दो साल का सेवा विस्तार

मुख्यमंत्री ने पांच सितंबर 2017 को शिक्षक दिवस समारोह में प्रदेश के हर जिले से परिषदीय विद्यालयों के एक-एक शिक्षक को राज्य अध्यापक पुरस्कार से नवाजने का एलान किया था। पिछले साल तो बेसिक शिक्षा विभाग ऐसा नहीं कर पाया, लेकिन इस बार उसने प्रदेश के हर जिलों के शिक्षकों से आवेदन मांगे थे। पुरस्कार के लिए जिलों से संस्तुत किये गए शिक्षकों का राज्य स्तरीय समिति ने 26, 27 व 28 अगस्त को साक्षात्कार किया था। राज्य स्तरीय समिति के अनुमोदन के आधार पर शासन ने 49 शिक्षकों को पुरस्कार के लिए चयनित किया गया। इन शिक्षकों को पुरस्कार स्वरूप 25 हजार रुपये प्रदान किये गए। इन शिक्षकों को दो साल का सेवा विस्तार भी मिलेगा।

इन्हें मिला पुरस्कार

अलीगढ़-यतीश कुमार, सहायक अध्यापक, उच्च प्राथमिक विद्यालय कारेका सदूपुरा, इगलास
अमरोहा-राघवेंद्र सिंह, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय सुल्तान ठेर गजरौला
औरैया-मनीष कुमार, सहायक अध्यापक, पूर्व माध्यमिक विद्यालय शिवगंज सहार
बहराइच-राजेश कुमार पांडेय, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय यादवपुर, तलवापुर
बलरामपुर-ओमप्रकाश सिंह, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय बदलपुर, बैरिया, सुर्जनपुर बाजार
बांदा-अंजू गुप्ता, प्राथमिक विद्यालय सम्हौरा-1, महुआ
बाराबंकी-सुशील कुमार, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय गुलरिहा हरख
बरेली-नम्रता वर्मा, सहायक अध्यापक, मॉ.प्राथमिक विद्यालय उनासी
भदोही-अरविंद कुमार पाल, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय चितईपुर, ज्ञानपुर, भदोही
बदायूं-सुधा सिंह, उच्च प्राथमिक विद्यालय, गोठा, वजीरगंज
बुलंदशहर-फिरोज खान, सहायक अध्यापक, प्राथमिक विद्यालय चिडावक, गुलावटी, बुलंदशहर
चित्रकूट-दयाशंकर सिंह, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय खरैहा, चित्रकूट
देवरिया-आफाक अहमद, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय रावतपार अमेठिया, लार,
एटा-धीरज पाल सिंह, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय गनेशपुर प्रथम, अवागढ़
फतेहपुर-आसिया फारूकी, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय अस्ती
गौतम बुद्ध नगर-आकांक्षा सक्सेना, प्राथमिक विद्यालय, अगहपुर
गोंडा-राजेश प्रताप सिह, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय हरिहर, वजीरगंज
गोरखपुर-मंजूषा सिंह, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय बरहुआ
हापुड़-भावना शर्मा-सहायक अध्यापक, प्राथमिक विद्यालय कमालपुर
हाथरस-हेमंत कटारा, प्रधानाध्यापक, मॉडल प्राथमिक विद्यालय गंगौली
जालौन-पंकज पालीवाल, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय हरकूपुर, महेवा
जौनपुर-अखिलेश चंद्र मिश्र, अभिनव प्राथमिक विद्यालय नटौली
कन्नौज-आशुतोष दुबे, सहायक अध्यापक, प्राथमिक विद्यालय तालग्राम
कानपुर देहात-कैलाशनाथ पाल, प्रधानाध्यापक, बाजपेयी पुरवा, ब्लॉक डेरापुर
कौशांबी-हरिओम सिंह, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय पेरई, ब्लॉक नेवादा
कुशीनगर-सूर्यप्रताप, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय भटवलिया बनकट खोटही, रामकोला
लखीमपुर खीरी-पंकज कुमार वर्मा, प्रधानाध्यापक, उच्च प्राथमिक विद्यालय कोटवा, बेहजम
ललितपुर-ऋचा अग्रवाल, सहायक अध्यापक, प्राथमिक विद्यालय नंदनवारा, जखौरा
लखनऊ-मोहिनी आभा, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय मल्लाहन खेड़ा, बख्शी का तालाब
मैनपुरी-मयंक शर्मा, प्राथमिक विद्यालय चनेपुर छबीलेपुर
मथुरा-नीरज मथुरिया, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय बाद
मऊ-स्वतंत्र कुमार श्रीवास्तव, प्रधानाध्यापक प्राथमिक विद्यालय नगरीपार, मोहम्मदाबाद गोहना
मेरठ-यतिका पुंडीर, सहायक अध्यापक, प्राथमिक विद्यालय (इमि) अमालपुर, रजपुरा
मीरजापुर-श्वेता अग्रवाल, प्राथमिक विद्यालय मुहकुचवा
मुरादाबाद-डॉ.हर नंदन प्रसाद, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय रसूलपुर नगली, मूढ़ापांडे
मुजफ्फरनगर-अखलाक अहमद, प्राथमिक विद्यालय तितावी-1
पीलीभीत-संतोष कुमार खरे, सहायक अध्यापक, उच्च प्राथमिक विद्यालय बरहा, ब्लॉक ललौरीखेड़ा
प्रतापगढ़-श्याम प्रताप मौर्य, सहायक अध्यापक, पूर्व माध्यमिक विद्यालय मल्हूपुर, ब्लॉक मांधाता
प्रयागराज-आशा सिंह, सहायक अध्यापक, पूर्व माध्यमिक विद्यालय मोहम्मदपुर बहरिया
रामपुर-रेनू सिंह, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय भुल्लाखेड़ा, बिलासपुर
संभल-कपिल मलिक, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय इटायला माफी, ब्लॉक असमोली
संत कबीर नगर-इंदु यादव, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय खलीलाबाद-प्रथम,
शाहजहांपुर-प्रदीप कुमार, सहायक अध्यापक, उच्च प्राथमिक विद्यालय बजेहरा, निगोली
शामली-सुवासिनी, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय लाक
सिद्धार्थनगर-दुर्गेश कुमार मिश्र, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय मंगराव, भनवापुुर
सीतापुर-रुचि अग्रवाल, प्राथमिक विद्यालय पिदौरिया
सोनभद्र-अंजू जायसवाल, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय पडऱीपान, चोपन
उन्नाव-डॉ.रचना सिंह, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय कटरी पीपरखेड़ा सिकंदरपुर कर्ण
वाराणसी-रविंद्र कुमार सिंह, प्रधानाध्यापक, प्राथमिक विद्यालय भिटारी