MP Election: बीजेपी और कांग्रेस के हमले तेज, चुनावी राज्य मध्य प्रदेश में इन नारों ने लगाया सियासी तड़का

0
47

इन दिनों मध्यप्रदेश की आबोहवा चुनावी समर के संकेत दे रही है.यहां 6 माह बाद होने जा रहे विधानसभा चुनाव में मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़ बीजेपी और विपक्ष में बैठी कांग्रेस पार्टी के बीच है. दोनों पार्टियां और इनके नेता मैदानी रैलियों एवं सभाओं के साथ आभासी दुनिया में भी एक-दूसरे पर कीचड़ उछालने में लगे है. सोशल मीडिया पर चुनावी वादों के साथ आरोप-प्रत्यारोप के नारे और पोस्टर चिपकाए जा रहे है. बीजेपी लगातार विपक्षी पार्टी के चुनाव अभियान की अगुवाई कर रहे कमलनाथ पर निशाना साध रही है, तो कांग्रेस के आरोपों की तोप का मुंह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की तरफ है.

सोशल मीडिया पर तमाम तरह के पोस्टर और नारों के साथ राजनीतिक दल एक-दूसरे की कमियां उजागर कर रहे है. यहां जानते है कि बीजेपी और कांग्रेस मतदाताओं को लुभाने के लिए किन योजनाओं का सहारा ले रहे हैं. वहीं एक दूसरे पर लांछन लगाने के लिए कौन से नारे उछाल रहे हैं? बीजेपी जहां कमलनाथ को ‘झूठनाथ’ बता रही है तो कांग्रेस ने सरकार के लिए ‘शिवराज-जंगलराज’ का नारा दिया है.

बीजेपी ने नारे

झूठनाथ के दो काम – झूठ और लूट.
बीजेपी पर भरोसा, कांग्रेस सिर्फ धोखा.
बीजेपी ने दिया युवाओं को मौका, कांग्रेस ने दिया था युवाओं को धोखा.
कांग्रेस के झूठनाथ ने युवाओं को बेरोजगारी भत्ता के नाम पर दिया था धोखा, बीजेपी ने ‘मुख्यमंत्री सीखो कमाओ योजना’ से युवाओं को दिया आगे बढ़ने का मौका.
झूठनाथ जवाब दीजिए.
कांग्रेस सरकार में ‘रोजगार के लिए मवेशी हकवाने’ के नाम पर युवाओं की भावनाओं का मजाक क्यों बनाया था?
कांग्रेस का पलटवार

“थामेंगे हाथ,अब कमलनाथ”
“मध्यप्रदेश मांगे कमलनाथ”
“शिवराज-जंगलराज”
शिवराज ने हमेशा झूठ परोसा, कमलनाथ हैं प्रदेश का भरोसा.
मध्यप्रदेश में जनता का बुरा हाल, क़र्ज़ लेकर घी पिये बीजेपी सरकार.
हर तरफ़ मचा हाहाकार, आओ बदलें अब सरकार.
कांग्रेस देगी ₹500 में टंकी, बीजेपी देगी केवल नौटंकी.
कर्जमाफी से रोज दिवाली लायेंगे, किसानों के लिए खुशहाली लाएंगे.
सबके सपने होंगे साकार, आ रही है कमलनाथ सरकार.
गैस सिलेंडर ₹500 मे देंगे, हर महिला को ₹1500 महीने देंगे, ₹100 में 100 यूनिट बिजली देंगे. किसानों का कर्ज होगा माफ, पुरानी पेंशन योजना लागू करेंगे.
बीजेपी की ओर से प्रदेश प्रवक्ता हितेश वाजपेयी सोशल मीडिया पर कांग्रेस के वादों पर सवाल उठा रहे है.

एक भी नागरिक को पूरे भारत में कहीं 500 मे सिलेंडर दिया हो तो रसीद बताओ !
एक भी महिला को यदि 1500 महीना पूरे भारत में कहीं दिया हो तो RTGS या RTGS का SMS बताओ ?
एक भी व्यक्ति को 000 रु में 300 यूनिट बिजली दी हो हिमाचल में घोषणा कर तो बिल बताओ !
एक भी कर्मचारी/अधिकारी को “सेवा भर्ती नियमों में संशोधन” कर OPS में कांग्रेस सरकार ने कहीं शामिल किया हो तो OPS पर जॉइनिंग बताओ ! नहीं तो आम नागरिक को न बरगलाओ!

वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता के के मिश्रा ने आरोप लगाया है कि युवा को कमाने के लिए शिवराज सरकार ने 18 सालों बाद लांच की सीखो कमाओ योजना. उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि यह भी सही है कि कमाया कैसे जाए, वह सिर्फ इसी सरकार से ही सीखा जा सकता है.