MP Chunav 2023: पीएम मोदी और प्रियंका भरेंगी हुंकार, महाकौशल से होगा चुनाव अभियान का आगाज

0
46

भोपाल. मध्य प्रदेश में जैसे-जैसे चुनाव का समय नजदीक आ रहा है, वैसे-वैसे बड़े नेताओं के दौरे बढ़ते जा रहे हैं. इसी कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रियंका गांधी इसी महीने महाकौशल के दौरे पर आ रहे हैं. माना जा रहा है कि यहीं से बीजेपी और कांग्रेस अपने-अपने चुनाव अभियान का आगाज करेंगी. 2018 के पहले महाकौशल बीजेपी का गढ़ माना जाता था. लेकिन, 2018 के आंकड़े बीजेपी के लिए बेहद चौंकाने वाले थे. इसके चलते बीजेपी अपनी खोई जमीन को वापस पाने के लिए जी जान से जुटी हुई है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 जून विश्व योग दिवस पर महाकौशल के दौरे पर आ रहे हैं. इस दौरान वे महाकौशल के लिए कुछ बड़ी घोषणाएं कर सकते हैं. वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस की राष्ट्रीय महामंत्री प्रियंका गांधी भी 12 जून को महाकौशल आ रही हैं. वे यहां विधिवत कांग्रेस के चुनावी अभियान का आगाज करेंगी. इस दौरान वह कांग्रेस के महिला वचन पत्र को भी जारी करेंगी. गौरतलब है कि महाकौशल में 38 विधानसभा क्षेत्र हैं. 2018 के चुनाव में कांग्रेस को यहां 24 सीटों पर जीत हासिल हुई थी. जबकि, बीजेपी को महज 12 सीटों पर जीत मिली थी. साल 2013 के आंकड़े इसके उलट थे.

महाकौशल पर सियासत
महाकौशल के दौरों पर कांग्रेस के प्रवक्ता आनंद जाट का कहना है कि प्रियंका गांधी एक बड़ी चुनावी सभा को संबोधित करने के लिए जबलपुर आ रही हैं. यह माना जा सकता है कि यह मध्य प्रदेश में कांग्रेस के चुनाव अभियान का आगाज है. इसके साथ ही कांग्रेस ने आधी आबादी यानी महिलाओं के लिए विशेष वचन पत्र तैयार किया है. उसे भी प्रियंका इसी दिन जारी करेंगी.

कांग्रेस ने पूछे सवाल
जाट ने कहा कि प्रधानमंत्री इस साल तीसरी बार आ रहे हैं. जब वह पहली बार आए तो कूनो में चीते छोड़े, दूसरी बार आए तो महाकाल लोक का उद्घाटन किया और तीसरी बार वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाई. उन्होंने कहा कि महाकाल लोक में जिस तरीके से भ्रष्टाचार हुआ, कूनो में जिस तरीके से चीतों की मौत हो रही है और वंदे भारत ट्रेन दुर्घटनाओं का शिकार हो रही है, उस पर कांग्रेस उनसे कुछ वाजिब सवाल पूछ रही है. क्या प्रधानमंत्री महाकौशल के दौरे पर इन घटनाओं के बारे में भी कुछ वक्तव्य देंगे.