छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री बोले – सुपेबेड़ा किडनी प्रभावितों का होगा बेहतर इलाज

0
127

गरियाबंद । स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव बुधवार को गरियाबंद जिले के देवभोग ब्लॉक के ग्राम सुपेबेड़ा पहुंचे। यह वही गांव है, जहां ज्यादातर लोगों को किडनी से जुड़ी बीमारी है। इस मौके पर सिंहदेव ने देवभोग प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में डायलिसिस सेवा के लिए एक विशेषज्ञ चिकित्सक की सेवाएं अविलंब उपलब्ध कराने की बात कही। ग्रामीणों ने कहा कि वे एम्स में इलाज कराएं। वहां उन्हें पूरी सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। फ्लोराइड युक्त पानी का उपयोग नहीं करने की सलाह देते हुए उन्होंने घोषणा की कि सुपेबेड़ा में जल्द ही तेल नदी से पानी पहुंचाया जाएगा। उन्होंने बेलार नाला और तेल नदी पर शीघ्र ही पुल निर्माण कराए जाने की घोषणा की। मंत्री के प्रवास के दौरान उनके साथ संचालक स्वास्थ्य सेवाएं नीरज बंसोड़ और एम्स रायपुर के डायरेक्टर डॉ. नितिन नागरकर भी मौजूद थे।

इस मौके पर सिंहदेव ने ग्रामीणों से चर्चा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि इन्हें किडनी की बीमारी से राहत दिलाने के लिए कारगर कदम उठाएं। स्वास्थ्य मंत्री ने ग्रामीणों को भरोसा दिलाया कि बीमारी के संबंध में जांच रिपोर्ट की जानकारी स्थानीय जनप्रतिनिधियों को भी उपलब्ध कराई जाएगी।

सोया दूध पिलाकर अमृत योनजा का शुभारंभ

मंत्री सिंहदेव ने इस अवसर पर स्कूली बच्चों को सोया दूध पिलाकर मुख्यमंत्री अमृत योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने आंगनबाड़ी के बच्चों और गर्भवती माताओं को सुपोषण किट वितरण कर जिले में सुपोषण अभियान का भी शुभारंभ किया।