कांग्रेस-भाजपा में सीधा मुकाबला, महिला वोटरों की संख्या पुरुषों से अधिक

0
110

बिलासपुर. मरवाही विधानसभा उपचुनाव (Marwahi Bypoll) में अब तस्वीर लगभग साफ हो चुकी है। इस चुनाव में कांग्रेस और भाजपा के बीच सीधा मुकाबला होना तय है। इस चुनाव में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी, राष्ट्रीय गोंडवाना पार्टी समेत आठ प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। मरवाही विधानसभा क्षेत्र में महिला मतदाताओं की संख्या अधिक है। इस क्षेत्र में महिला मतदाता 96 हजार 895 है। पुरुष मतदाताओं की संख्या 93 हजार 359 है। इस विधानसभा क्षेत्र में 3 ट्रांसजेंडर मतदाता है। पूरे विधानसभा क्षेत्र में 1 लाख 90 हजार 254 मतदाता है।

1691 दिव्यांग मतदाता
मरवाही विधानसभा क्षेत्र में 1 हजार 691 दिव्यांग मतदाता है। सेवा मतदाताओं की संख्या 198 है। मरवाही विधानसभा क्षेत्र की वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर 2 लाख 66 हजार 146 जनसंख्या है। इनमें 1 लाख 32 हजार 799 पुरुष एवं 1 लाख 33 हजार 413 महिला है।

सीधा मुकाबला
इस उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी डॉक्टर कृष्ण कुमार ध्रुव एवं डॉक्टर गंभीर सिंह के बीच ही सीधा मुकाबला होना तय है। हालांकि गोंगपा, रागोंपा इस चुनाव को त्रिकोणी मुकाबला करने में जुटे हुए हैं। चार अन्य उम्मीदवार भी चुनाव में किस्मत आजमा रहे।

मतदान सर्वेक्षणों पर रोक
भारत निर्वाचन आयोग ने विभिन्न प्रदेशों के लोकसभा एवं विधानसभा उप निर्वाचन को ध्यान में रखते हुए 3 नवंबर सुबह 6 बजे से 7 नवंबर शाम 6.30 बजे तक एक्जिट पोल के प्रसारण अथवा प्रकाशन पर रोक लगाई गई है। प्रदेश के मरवाही विधानसभा उपचुनाव के लिए तीन नवंबर को मतदान होना है।

मरवाही विधानसभा समेत विभिन्न उपचुनावों के मद्देनजर भारत निर्वाचन आयोग ने मीडिया में किसी भी प्रकार के एक्जिट पोल के प्रकाशन अथवा प्रसारण पर रोक लगाई है। एक्जिट पोल संबंधी आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन पर लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम1951 के प्रावधानों के तहत कार्यवाही की जाएगी। इसके साथ ही संबंधित निर्वाचन क्षेत्र में मतदान समाप्ति के 48 घंटे पूर्व से किसी भी प्रकार के मतदान सर्वेक्षणों के प्रसारण अथवा प्रकाशन पर भी प्रतिबंध लागू रहेगा।