Panchayat election-कांग्रेसी भूपेश सरकार की उपलब्धियों तो भाजपाई मोदी के नाम पर मांग रहे वोट

0
137

दुर्ग. त्रि-स्तरीय पंचायतों के चुनाव भले ही गैर दलीय आधार पर कराए जा रहे है, लेकिन राजनीतिक दलों से जुड़े नेताओं ने पैनल तैयार कर मुकाबले को अघोषित रूप से दलीय बना दिया है। इसके चलते लोकसभा व विधानसभा की तर्ज पर इस बार त्रि-स्तरीय पंचायतों के चुनाव में भी स्थानीय मुद्दे गायब हैं। कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी प्रदेश की भूपेश सरकार की उपलब्धियां गिनाकर वोट मांग रहे हैं तो भाजपाई केंद्र की मोदी के नाम का सहारा ले रहे हैं। समर्थकों के पक्ष में कांग्रेस व भाजपा के बड़े नेताओं के प्रचार अभियान में उतर जाने से चुनावी मुकाबला और भी रोचक हो गया है। कांग्रेस की ओर से मंत्री ताम्रध्वज साहू तो भाजपा समर्थित प्रत्याशियों के लिए सांसद विजय बघेल ने मोर्चा संभाल रखा है।

कांग्रेसियों का फोकस कर्जमाफी व समर्थन मूल्य पर
पंचायत से लेकर जिला पंचायत तक कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी भूपेश सरकार द्वारा 2500 रुपए समर्थन मूल्य पर धान खरीदी और इससे पहले कर्जमाफी को प्रचारित कर वोट मांग रहे हैं। इसके अलावा ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर आधारित नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी प्रोजेक्ट को भी प्रचारित किया जा रहा है।

भाजपाई गिना रहे मोदी और केंद्र की उपलब्धियां
भाजपा समर्थित प्रत्याशियों का फोकस भी स्थानीय मुद्दों से ज्यादा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार की उपलब्धियों पर है। नेता सभाओं ने केंद्र के बड़े निर्णयों का जिक्र कर वोट मांग रहे हैं। इसके अलावा धान खरीदी में कथित अव्यवस्था को प्रदेश सरकार की नाकामी के रूप में प्रचारित कर वोट मांगा जा रहा है।

सीएम भूपेश के गढ़ में सांसद विजय ने संभाली कमान
पाटन में सीएम भूपेश बघेल और सांसद विजय बघेल की राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता नई बात नहीं है। यहां 4 जिला पंचायत व 25 जनपद पंचायत क्षेत्र हैं। यहां सांसद विजय बघेल ने सप्ताहभर से कमान संभाल रखा है। बघेल ने पहले दौर में गांव-गांव जाकर कार्यकर्ताओं की बैठक ली और अब पिछले तीन-चार दिनों से बड़े गांवों में सभा कर अपने समर्थकों के लिए वोट मांग रहे हैं।

मंत्री ताम्रध्वज जुटे अपने क्षेत्र में साख बचाने
मंत्री ताम्रध्वज साहू भी अपने निर्वाचन क्षेत्र दुर्ग ग्रामीण में चुनाव अभियान में जुटे हैं। उनके क्षेत्र में 4 जिला पंचायत के अलावा 26 जनपद पंचायत क्षेत्र आते हैं। कांग्रेस ने सभी 4 जिला पंचायत क्षेत्र में मंत्री ताम्रध्वज साहू की पसंद से प्रत्याशी उतारा है। ऐसे में उन्हें जीताकर लाने की चुनौती भी मंत्री ताम्रध्वज के समक्ष है। साहू भी गांव-गांव जाकर समर्थकों के पक्ष में सभा कर रहे हैं।