जिम के बजाए घर में करें ये 4 कार्डियो एक्‍सरसाइज, मांसपेशियों के साथ हड्डियां भी होंगी मजबूत

0
180

घर पर कार्डियो वर्कआउट करना काफी लाभकारी हो सकता है, ये किसी और व्यायाम विकल्प से बेहतर हैं। इसके अलावा, आपको रोकने के लिए कोई मौसम नहीं हैं, जिम में भीड़ जो आपको जज करती हो या खास समय निकालने जैसी समस्याएं भी घर में नहीं होती हैं। कई लोग मानते हैं कि कार्डियो को बाहर या महंगी मशीन पर करना पड़ता है। वास्तव में, ऐसा कुछ भी नहीं है। ऐसे व्यायाम जो आपके दिल की धड़कन को बढ़ाते हों या आपको पसीने लाने में मदद करते हों, उन्हें ही कार्डियो कहा जाता है। कार्डियो दरअसल आपके वजन घटाने और आपको स्वस्थ रखने में सक्षम है, ये डायबिटीज या हाइ ब्लड प्रेशर की समस्याओं से आपको निजात दिला सकता है। ये आपके काम करने की क्षमता बढ़ाता है और आपको एक्टिव भी रखता है। कार्डियो करने से आपकी कैलोरीज कम होती है और फेफड़े भी स्वस्थ रहते हैं। यहां हम आपको बताएंगे कि कैसे आप घर में थोड़ा समय निकालकर कार्डियो कर सकते हैं।

जंपिंग जैक को साइड-स्ट्रैड हॉप भी कहा जाता है, ये पूरे शरीर को स्वस्थ रखने का काम करता है, इससे आपका दिनचर्या बेहतरीन बन जाती है। ये व्यायाम करने में काफी मजेदार है, और कार्डियो एक्सरसाइज हृदय संबंधी परेशानी जैसे हाइ ब्लड प्रेशर आदि, को दूर करती है। यह आपके हृदय की गति को संतुलित करने में मदद करता है, रक्त प्रवाह (blood circulation) बढ़ाता है, रक्तचाप (blood pressure) को कंट्रोल करता है और शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को ठीक करने में मदद करता है। शुरुआत में, चार सेट में लगभग 25 बार, जंपिग करने की कोशिश करनी चाहिए, और फिर धीरे-धीरे सेट बढ़ाने चाहिए।

हाइ नीज़ और क्लाइबिंग (High knees & climbing)
खड़े होकर अपने घुटनों को ऊँचा उठाएँ, जैसे आप एक ही जगह पर दौड़ रहें हैं, फिर जल्दी से फर्श पर पुशअप्स लगाएं, एक समय में एक घुटने को अपनी छाती तक बार-बार लेकर आएं। कुछ देर के लिए, अपने शरीर को आराम करने दें और फिर से दो बार इन दोनों एक्सरसाइज को दोहराएं। ऐसा 6 से 8 बार तक करना ठीक रहेगा, इसके कई फायदे हो सकते हैं, जैसे- हृदय गति बढ़ाता है, मांसपेशियों और घुटनों को मजबूत करता है, हाइ ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है और वजन कम करता है।

बर्पीज (Burpees)
cardio

अपने घुटनों के बल झुकें और दोनों हाथों को ज़मीन पर रखें, कई पुशअप्स लगाएं। ऐसा आप तब तक कर सकते हैं, जब तक दिल की धड़कने तेज न होने लगें। बीच बीच में थोड़ा आराम करना भी आपके लिए ठीक होगा। चार सेट में 20 बार ऐसा करने से, शरीर का फैट कम होता है और ज्यादा से ज्यादा पसीने आते हैं। शरीर का कोलेस्ट्रोल कम होता है और यह बाहों, पीठ, छाती, कोर, पैर और ग्लूट्स को मजबूत करने का काम करता है। ये एक्सरसाइज काफी लोगों की पसंदीदा भी मानी जाती है और इसके अलावा, दिल की धड़कन बढ़ाने के लिए ये एक अच्छा विकल्प है।

रस्सी कूदना (Skipping rope)
रस्सी कूदने से आपका शरीर तंदुरुस्त रहता है और ये वजन घटाने में भी कारगर है। इसकी मदद से आप अपने एब्स के आस-पास का फैट घटा सकते हैं और ये मांसपेशियों को भी मजबूत करता है। एक सेट में, 50 बार कूदना आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। रस्सी कूदने से आप एक्टिव और तंदुरुस्त रहते हैं, इसके लिए आपको कोई निश्चित समय निकालने की जरूरत नहीं है आप इसे किसी भी वक्त कर सकते हैं।