इन संकेतों से लगाएं यूरिक एसिड के बढ़ते स्तर का पता और जानें किन तरीकों से करें इस पर कंट्रोल

0
153

यूरिक एसिड एक तरीके का एसिड होता है जो हमारी जीवनशैली से जुड़ा हुआ होता है। यह हमारे शरीर में खून के जरिए किडनी तक पहुंचता है। वैसे तो यूरिक एसिड हमारे शरीर से पेशाब के जरिए बाहर निकल जाता है। लेकिन कई बार ये नहीं निकल पाता है जो शरीर में धीरे-धीरे बढ़ने लगता है। जिसके कारण कई तरह की समस्या भी पैदा होती है।

यूरिक एसिड अगर शरीर में ज्यादा मात्रा में बन जाता है तो ये गठिया जैसी गंभीर समस्या भी पैदा कर सकता है। इसलिए यूरिक एसिड की मात्रा को नियंत्रित करना बहुत जरूरी होता है। जिसके लिए हमे अपनी जीवनशैली और डाइट में काफी बदलाव करना पड़ता है। लेकिन कई लोगों इस बारे में जानकारी नहीं होती कि वो अपने शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को कैसे नियंत्रित रखें। आइए हम आपको बताते हैं कि आप यूरिक एसिड बढ़ने के क्या लक्षण होते हैं और इसे कैसे नियंत्रित किया जा सकता है।

यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण
कई मामलों में यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण आम समस्याओं की तरह ही होते हैं इसलिए इसे पहचाननें में काफी परेशानी होती है। लेकिन अगर आप सही तरीके से इसके लक्षणों को जान लेंगे तो आप इसका आसानी से पता लगा सकते हैं जिसके बाद आप इसको नियंत्रित कर सकते हैं। इसके मुख्य लक्षण हैं:

ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पानी पिएं
अगर आपको यूरिक एसिड के बढ़ने होने का अंदेशा होता है तो आप इसके लिए पानी ज्यादा पीना शुरू कर दें। पानी आपके शरीर में मौजूद यूरिक एसिड को पतला करने का काम करता है साथ ही इससे आपकी किड़नी भी सही तरीके से सक्रिय रहती है। ज्यादा मात्रा में पानी पीने से यूरिक एसिड पतला होकर आपके पेशाब के जरिए बाहर निकल जाता है।

जैतून का तेल
आप पानी ज्यादा पीने के साथ ही जैतून के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप अपने रोजाना की डाइट में जैतून का तेल इस्तेमाल कर यूरिक एसिड को नियंत्रित कर सकते हैं। आपको बता दें कि जैतून के तेल में काफी मात्रा में विटमिन ई होता है, जो यूरिक एसिड के स्तर को कम करने में आपके लिए मददगार साबित होता है।

सेब का सिरका
सेब का सिरका आपके शरीर से यूरिक एसिड को कम करने में काफी फायदेमंद साबित होता है। इसमें काफी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट तत्व और एंटीइंफ्लामेटरी तत्व पाए जाते हैं। नियमित रूप से इसका इस्तेमाल करने से आपके शरीर में यूरिक एसिड नियंत्रित रह सकता है। सेब का सिरका आपके खून में पीएच के स्तर को बढ़ा देता है जो यूरिक एसिड को कम करता है।

बेकिंग सोडा
बेकिंग सोडा आपके यूरिक एसिड के स्तर को कम करता है। ये एसिड को ज्यादा घुलनशील बनाता है जिससे उसकी मात्रा कम हो जाती है। यूरिक एसिड आसानी से पतला होने के बाद आपकी शरीर से बाहर निकल जाता है।