मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन की हालत नाजुक, राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री मोदी ने कुशलक्षेम पूछी

0
116

भोपाल : लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन की हालत नाजुक बनी हुई है। सांस लेने में तकलीफ बढ़ने के बाद सोमवार से वे इलेक्टिव वेंटिलेटर पर हैं। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फोन पर टंडन के स्वजनों से कुशलक्षेम पूछी। फिलहाल टंडन की स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी मंगलवार को लखनऊ के अस्पताल में राज्यपाल टंडन से मुलाकात की। चौहान ने बताया कि उन्हें मेदांता में विश्व स्तरीय इलाज मिल रहा है, मुझे विश्वास है वह जल्द ही स्वस्थ होंगे। बताया जा रहा है कि चौहान ने टंडन को जब अभिवादन किया तो उन्होंने हाथ के इशारे से जवाब भी दिया।

सीएम योगी अस्पताल प्रबंधन से लगातार बनाए हुए हैं संपर्क

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हषर्षवर्धन ने भी टंडन के स्वास्थ्य को लेकर स्वजनों से लंबी चर्चा की। उनके निर्देश पर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) दिल्ली के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने मेदांता अस्पताल के चिकित्सकों से इलाज और जांच संबंधी पूरा ब्योरा मंगाकर अपना अभिमत भी दिया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अस्पताल प्रबंधन के लगातार संपर्क में बने हुए हैं। टंडन को चिकित्सा विशेषषज्ञ अथवा हर तरह की स्वास्थ्य सुविधा तुरंत उपलब्ध कराने के इंतजाम किए गए हैं।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम मोदी ने ली स्वास्थ्य की जानकारी

राष्ट्रपति कोविंद दो बार फोन पर टंडन के स्वास्थ्य की जानकारी ले चुके हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने भी मंगलवार को टंडन के स्वजनों से लंबी चर्चा कर जल्दी स्वस्थ होने की कामना की। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, अमित शाह, नरेंद्र तोमर व रामदास अठावले सहित कई राज्यों के राज्यपाल, मुख्यमंत्री और मंत्रियों ने भी फोन पर राज्यपाल के स्वास्थ्य की जानकारी ली।

सीएम शिवराज चौहान राज्यपाल को देखने अस्पताल पहुंचे

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री चौहान, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा, संगठन महामंत्री सुहास भगत दोपहर बाद टंडन से मिलने लखनऊ पहुंचे। चौहान ने मीडिया से चर्चा में कहा कि मुझे विश्वास है कि टंडन जल्द स्वस्थ होंगे और उनके मंत्रिमंडल विस्तार में शामिल होने वाले मंत्रियों को शपथ भी दिलाएंगे। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ, मोतीलाल वोरा, उमा भारती के अलावा गृह व स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी सहित पक्ष-विपक्ष के कई नेताओं ने टंडन की कुशलक्षेम पूछी।