हर जिले के अस्पताल में कोरोना प्रभावितों के लिए 100-100 बेड रिजर्व; दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को लाने का इंतजाम करेंगे कलेक्टर

0
114

रायपुर. देशभर में 21 दिन के लॉकडाउन का शनिवार को चौथा दिन है। प्रदेश सरकार ने हर जिले में कोरोना प्रभावितों के लिए 100-100 बेड और सभी मेडिकल काॅलेजों में इलाज की आवश्यक व्यवस्था करने के लिए कहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि छत्तीसगढ़ के जो लोग दूसरे प्रदेशों में फंसे हैं, उनके लिए सभी जरूरी व्यवस्थाएं जिलों के कलेक्टर के माध्यम से कराई जा रही हैं। फल, सब्जी, दूध की आपूर्ति और गेहूं की कटाई और धान की खेती में लगे किसानों और मजदूरों को न रोका जाए। मजदूरों को काम करते समय सोशल डिसटेंसिंग के बारे में समझाएं। प्रदेश में अब तक 370 सैंपल की जांच की गई है। इसमें 6 कोरोना पॉजीटिव हैं।

इधर, रेलवे बोर्ड ने अब 14 अप्रैल तक ट्रेन बंद रखने का फैसला लिया है। शुक्रवार को इसका आदेश बिलासपुर रेल मंडल पहुंचा। अभी तक 31 मार्च तक ट्रेनों के परिचालन पर रोक लगाई गई थी। वहीं, छत्तीसगढ़ में कालाबाजारी रोकने को लेकर सरकार सख्त हो गई है। इस संबंध में देर रात पुलिस ने सभी इलाकों में चेतावनी दी है।

370 सैंपल जांचे, 283 निगेटिव, 19 जिलों में संदिग्ध मिले हैं

प्रदेश से 370 सैंपल में 283 सैंपल नेगेटिव रहे हैं। 81 की रिपोर्ट आनी बाकी है। प्रदेश में सबसे ज्यादा संदिग्ध रायपुर में 187 मिले। रायपुर में सबसे ज्यादा 3 संक्रमित भी हैं। भिलाई, राजनांदगांव और बिलासपुर से एक-एक मरीज है। 19 जिलों में संदिग्ध मिले हैं। जबकि 9 जिलों में एक भी संदिग्ध नहीं मिला। इनमें बालोद, नारायणपुर, कवर्धा, पेंड्रा गौरेला और दूसरे जिले शामिल हैं।

विदेश से आकर गायब हुए 17 लोगों में 13 मिले
विदेश से आकर गायब होने वाले 17 में 13 यात्रियों का शुक्रवार को पता चल गया। इनमें से 6 यात्री माना स्थित शदाणी दरबार में मिले। बाकी अपने घर चले गए थे। उन्होंने प्रशासन को न तो रायपुर पहुंचने के बारे में सूचना दी और न ही जांच करवाई। पुलिस ने उन्हें खोज लिया है। सभी का चेकअप करा लिया गया है, लेकिन अब तक 4 यात्रियों उम्मे कुलसुम सोमन्ना, तरण टाइन, पुष्कर त्यागी और अजय राव का पता नहीं चल पाया है। उनका मोबाइल भी बंद है। शदाणी दरबार में 6 लोगों के अलावा दुर्ग में 2, राजनांदगांव में 2, बिलासपुर में एक यात्री मिला है। इनके अलावा एक हरियाणा गुरुग्राम और गुजरात में मिला।

विदेश यात्रा की जानकारी छिपाने पर 28 पर एफआईआर
प्रदेश में 28 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। इन्होंने विदेश यात्रा की जानकारी छिपाई है। इनमें दुर्ग में 5, पेंड्रा में 6, बालोद में 3, सूरजपुर 2, रायपुर, धमतरी, राजनांदगांव, मुंगेली, जांजगीर चांपा, सरगुजा, बलरामपुर, कोरिया, बस्तर, कांकेर, दंतेवाड़ा, बीजापुर में एक-एक के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। ये लोग हाेम क्वारैंटाइन के दौरान बाहर घूमते रहे।

रायपुर : बैरनबाजार की युवती, रामनगर के बुजुर्ग का कोई रिश्तेदार संक्रमित नहीं
बैरनबाजार की युवती, रामनगर के बुजुर्ग किराना दुकानदार और राजनांदगांव का कोरोना पॉजिटिव युवक, तीनों के ही नजदीकी रिश्तेदार, मेड और ड्राइवर और पड़ोसियों में कोरोना की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। एहतियातन सभी क्वारैंटाइन हैं। आशंका जताई जा रही थी कि बैरनबाजार में जिस युवती को कोरोना की पुष्टि हुई थी, उनकी मेड या पैरेंट्स संक्रमित हो सकते हैं। रिपोर्ट आने के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि वे सुरक्षित हैं।

बिलासपुर : गौरेला के सीएमओ लापरवाही पर निलंबित
कोरोना को लेकर अफवाह फैलाने वाले 2 और लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। वहीं, गौरेला नगर पंचायत के सीएमओ निलंबित कर दिया गया है। कोरोना संक्रमण की रोकथाम अभियान में लापरवाही बरतने और रुचि नहीं लेने पर निलंबित किया गया है।

रायगढ़ में ट्रक में छिपाकर ले जाए जा रहे मजदूरों के लिए पुलिस ने रहने और खाने की व्यवस्था की।
रायगढ़ पुलिस ने मजदूरों से भरे एक ट्रक को पकड़ा। इसमें करीब 50 मजदूर मौजूद थे। इन मजदूरों को प्लांट मालिक ट्रक में छिपाकर रायगढ़ से झारखंड भेज रहा था। पुलिस ने इन सभी मजदूरों के लिए खाने-पीने और उनके ठहरने का इंतजाम किया है। पुलिस इस तरह से मजदूरों को भेजने और प्रशासन को सूचना नहीं देने पर प्लांट मालिकों के खिलाफ कार्रवाई करेगी।