Corona virus effect in Chhattisgarh : पर्यटन विभाग के रिसॉर्ट में बुकिंग कैंसिल करा रहे सैलानी

0
340

रायपुर ।Corona virus effect in Chhattisgarh अब तक छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस से पीड़ित व्यक्ति नहीं मिला है। हालांकि अधिकांश राज्यों में कई लोग कोरोना वायरस की चपेट में है। सरकार भी कोरोना वायरस से बचाव के लिए कई कदम उठाया गया है। इसमें छत्तीसगढ़ भी अछूता नहीं है। इन सबको देखते हुए प्रदेश में पर्यटन स्थलों पर सैलानियों की संख्या में कम हो गई है। बशर्ते अभी छत्तीसगढ़ सरकार ने पर्यटन स्थलों पर लागों के आने-जाने की पाबंदी नहीं लगाई है, लेकिन कोरोना के दहशत साफ तौर देखा जा सकता है कि पर्यटन विभाग के रिसॉर्ट में सैलानी रुकना पसंद नहीं कर रहे हैं।

विभाग के अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में इस समय कुल ग्यारह रिसॉर्ट है। जहां विदेशी समेत कई राज्यों के सैलानियों ने पहले से कमरा बुकिंग कराया था, लेकिन कोरोना वायरस के दहशत के कारण कैंसिल करा रहे हैं। इनमें अभी हाल में ही संयुक्त राज्य अमेरिका और आस्टेलिया के सैलानी आने वाले थे, लेकिन बुकिंग को कैंसिल करा ली है। जानकारी के अनुसार अमेरिका के सैलानी चित्रकोट (बस्तर) के रिसॉर्ट में नौ रूम बुक कराए थे। वहीं आस्टेलिया के सैलानियों ने बारनवापारा (महासमुंद) में तीन रूम बुक कराये थे। वहीं इस वायरस के कारण प्रदेश के कई रिसॉर्ट के कमरे खाली हो गए हैं।

विभाग के पास 11 जगह पर रिसॉर्ट और दो लीज पर

पर्यटन विभाग के पास अभी प्रदेशभर में 11 जगहों पर रिसॉर्ट है। चित्रकोट (बस्तर), कुदरी बेला, सोनभद्र बिलासपुर, छेरछेरा रिसॉर्ट कबीर चबूतरा बिलासपुर, गौरी-गौरा खूटाघाट बिलासपुर, मैनपाट सरगुजा, सरोधा दादर कवर्धा, भोरमदेव कवर्धा, बारनवापारा महासमुंद, तांदुला जलाशय बालोद, जोहार कोण्डागांव में रिसॉर्ट है। इसके अलावा सिरपुर महासमुंद और रविशंकर जलाशय (गंगरेल) धमतरी के रिसॉर्ट को लीज में दिया है।

इनका कहना है

कोरोना वायरस और इस समय स्कूल, कॉलेज में परीक्षा होने के कारण फरवरी, मार्च के महीने में पर्यटन स्थल में सैलानियों की संख्या हर साल कम होती है। अभी हाल में चित्रकोट में अमेरिका के सैलानियों ने नौ रूम और बारनवापारा में आस्टेलिया के सैलानियों तीन रूम बुक कराये थे, लेकिन बुकिंग को कैंसिल करा दिया है। साथ ही इस समय सैलानियों की संख्या में थोड़ी कमी आई है।

– टीएन सिन्हा, सीनियर मैनेजर, पर्यटन विभाग