पूर्व सीएम के आरोपों पर कांग्रेस का पलटवार, कहा- भाजपा सरकार की नाकामियों का ठीकरा फोड़ना चाहते हैं रमन सिंह

0
111

रायपुर। कांग्रेस ने पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह के आरोपों पर पलटवार किया है। कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि जब से भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने रमन सिंह की उपेक्षा शुरू की है, उनकी बौखलाहट झलकने लगी है। रमन अपने 15 साल की सरकार की नाकामियों का ठीकरा कांग्रेस सरकार पर फोड़ने की कोशिश में लगे हैं।

शुक्ला ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को कांग्रेस आलाकमान अपने दल की सांगठनिक जिम्मेदारी सौंपता है, तो यह उनकी काबिलियत है। सीएम बघेल पर आरोप लगाने से पहले रमन सिंह खुद मंथन करें कि उनके किन कारनामों के कारण भाजपा उन पर भरोसा नहीं कर रही है। शुक्ला ने कहा कि भाजपा नेतृत्व को भय सताता है कि रमन को दूसरे प्रदेश में सांगठनिक जवाबदारी दी गई, तो लोग अगस्ता हेलीकाप्टर घोटाला, नान घोटाला, अंतागढ़ कांड, डीकेएस घोटाला और झीरम कांड की सच्चाई पूछेंगे।

शुक्ला ने कहा कि अपने सिपहसालार ओपी चौधरी के झूठे कारनामों की पोल खुलने पर रमन को कोरबा में धनबाद नजर आ रहा है। इसके लिए उनको मोदी सरकार से शिकायत करनी चाहिए। कोयला खदानों की सुरक्षा का दायित्व केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल का है और कोयला खदानों का प्रबंधन कोल इंडिया और उससे संबंधित कंपनियों का है। यदि वहां गड़बड़ी है, तो उसकी जवाबदार केंद्र सरकार है। रमन को चौधरी से पूछकर बताना चाहिए कि उनके द्वारा पोस्ट किया वीडियो कब का है।

वीडियो मामले में चौधरी का किया समर्थन
कोयला चोरी का वीडियो पोस्ट करने के मामले में प्रदेश मंत्री ओपी चौधरी के खिलाफ एफआइआर पर डा. रमन ने कहा कि फिल्म केजीएफ की कहानी छत्तीसगढ़ में दोहराई जा रही है। कोयले की चोरी बड़े पैमाने पर हो रही है। सरकार का माफिया को सरंक्षण प्राप्त है। माफिया और कोयला चोरी करने वालों पर कार्रवाई नहीं हुई और उजागर करने वाले ओपी चौधरी के खिलाफ कार्रवाई कर दी गई।