मुख्यमंत्री श्री चौहान ने महान क्रांतिकारी सरदार उधम सिंह के बलिदान दिवस पर किया नमन

0
62

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने महान क्रांतिकारी शहीद सरदार उधम सिंह के बलिदान दिवस पर उन्हें नमन किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निवास स्थित सभाकक्ष में उनके चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उनके योगदान का स्मरण करते हुए ट्वीट किया है कि “साहस, शौर्य और वीरता के पर्याय उधम सिंह जैसे सपूत पर हर देशप्रेमी को युगों-युगों तक गर्व रहेगा।”

सरदार उधम सिंह का जन्म 26 दिसम्बर 1899 को पंजाब के संगरूर जिले के सुनाम गाँव में हुआ था। वे 13 अप्रैल 1919 को जलियांवाला बाग नरसंहार के समय वहाँ मौजूद थे। यहीं पर उधम सिंह ने माइकल डायर को सबक सिखाने की प्रतिज्ञा ली और उसे लंदन जाकर गोली मारी। उधम सिंह ने वहाँ से भागने की कोशिश नहीं की और अपनी गिरफ्तारी दे दी। महान देश-भक्त उधम सिंह को 4 जून 1940 को हत्या का दोषी ठहराया गया और 31 जुलाई 1940 को उन्हें पेंटनविले जेल में फांसी दे दी गई।