भाजपा ने हमीरपुर विधानसभा और राज्यसभा के उप चुनाव के लिए घोषित किये अपने उम्मीदवार

0
134

लखनऊ । भाजपा ने विधानसभा और राज्यसभा के उप चुनाव के लिए उम्मीदवार घोषित कर दिए हैं। हमीरपुर के विधायक अशोक सिंह चंदेल को उम्रकैद की सजा सुनाए जाने और राज्यसभा सदस्य सुरेंद्र नागर व संजय सेठ के इस्तीफे के बाद रिक्त हुई सीटों पर उपचुनाव होना है। भाजपा ने सपा छोड़कर पार्टी में आने वाले सुरेंद्र नागर और संजय सेठ पर दांव लगाया है वहीं हमीरपुर में युवराज सिंह को उम्मीदवार घोषित किया है।

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने सुरेंद्र नागर, संजय सेठ और युवराज सिंह के नाम की घोषणा की। युवराज सपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे। वह मौदहा से कांग्रेस के विधायक और सपा से एमएलसी रह चुके हैं। यह सीट क्षत्रिय समाज के अशोक सिंह चंदेल की वजह से रिक्त हुई है, इसलिए भाजपा ने क्षत्रिय समाज से ही उम्मीदवार बनाया है। हालांकि यहां पर भाजपा के वरिष्ठ नेता बाबूराम निषाद को प्रबलतम दावेदार माना जा रहा था।

अन्य दलों ने भी उतारें हैं कंडीडेट…
इससे पहले हमीरपुर विधानसभा सीट के लिए 23 सितंबर को होने जा रहे उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने भी प्रत्याशी की घोषणा कर दी है। पार्टी महासचिव मुकुल वासनिक द्वारा जारी सूचना के अनुसार, राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी की संस्तुति पर हरदीपक निषाद को प्रत्याशी बनाया गया है। वहीं, समाजवादी पार्टी ने इस सीट से मनोज कुमार प्रजापति को उम्मीदवार घोषित किया है। लोकसभा चुनाव में मिलकर लड़ने वाली सपा-बसपा विधानसभा उप चुनाव में एक दूसरे खिलाफ मैदान में हैं। बसपा ने हमीरपुर सीट से नौशाद अली को अपना उम्मीदवार घोषित किया है।

बसपा ने हमीरपुर उप चुनाव के स्टार प्रचारक भी तय किये
बसपा ने हमीरपुर विधानसभा उपचुनाव के लिए 40 स्टार प्रचारक तय करते हुए इसकी सूची मुख्य निर्वाचन अधिकारी को भेज दी है। इसमें राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र, प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली व पूर्व प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा को शामिल किया गया है। बसपा अध्यक्ष मायावती ने अब तक किसी उपचुनाव में प्रचार नहीं किया, इसलिए अबकी उपचुनाव में भी उनका नाम स्टार प्रचारकों की सूची में नहीं है। दूसरी तरफ पार्टी अध्यक्ष मायावती के निर्देश पर हरदोई में राजपाल गौतम और सीतापुर में विनोद कुमार गौतम को जिलाध्यक्ष बनाया गया है।