सरकार पर हमला बोलने पूर्व मंत्रियों को बनाया प्रवक्ता, साय की टीम में ये नाम हैं शामिल

0
120

रायपुर. भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय (Chhattisgarh BJP President Vishnu Deo Sai) ने करीब 4 महीने के इंतजार के बाद अपनी जम्बो कार्यकारिणी की घोषणा कर दी है। खास बात यह है कि सरकार को घेरने की रणनीति को मजबूत करते हुए प्रवक्ताओं की टीम लगभग बदल दी गई है।

पूर्व मंत्रियों को प्रवक्ताओं की जिम्मेदारी दी गई है। इसमें पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर, राजेश मूणत और केदर कश्यप शामिल हैं। पुराने प्रवक्ताओं में संजय श्रीवास्तव का नाम है। इनके अलावा अनुराग सिंहदेव और नीलू शर्मा को भी प्रवक्ता बनाया गया है। साय ने अपनी कार्यकारिणी में आठ उपाध्यक्ष, तीन महामंत्री और आठ मंत्री बनाएं हैं। प्रदेश कार्यसमिति में 83 और अस्थायी आमंत्रित सदस्यों में 17 वरिष्ठ नेताओं को स्थान दिया गया है

महामंत्री बनाने में संतुलन, ओपी चौधरी भी शामिल
साय ने अपनी नई कार्यकारिणी में नए लोगों को भी मौका दिया है। महामंत्री की जिम्मेदारी तेजतर्रार विधायक नारायण चंदेल, भूपेन्द्र सवन्नी और किरण देव को सौंपी गई है। चंदेल बृजमोहन और सवन्नी रमन सिंह के करीबी माने जाते हैं। बस्तर संभाग में संगठन की पैठ बनाने के लिए किरण देव पर भरोसा जताया गया है। वे लंबे समय से संगठन में अलग-अलग दायित्व संभाल रहे हैं।

इसके अलावा आठ मंत्री में पूर्व आईएएस अफसर ओपी चौधरी को जगह दी गई है। इससे पहले वे कार्यसमिति के सदस्य थे। हालांकि उन्होंने युवा मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनाने की चर्चा थी, लेकिन नेताओं के बीच तालमेल नहीं बैठने पर मंत्री बनाया गया है। वहीं भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व अध्यक्ष विजय शर्मा, प्रबल प्रताप सिंह, उषा टावरी, संध्या परघनिया, अंजु सिंह राजपूत, राकेश यादव व परमेश्वरी राजवाड़े को मंत्री बनाया गया है।

भोजवानी की जगह अग्रवाल को कोष की जिम्मेदारी
साय ने अपनी नई कार्यकारिणी में कोषाध्यक्ष लीलाराम भोजवानी को बदल दिया है। वे रमन के करीबी है। लंबे समय से कोषाध्यक्ष का दायित्व संभाल रहे थे। साय ने उन्हें बदलकर पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल को कोषाध्यक्ष बनाया है। सह कोषाध्यक्ष की जिम्मेदारी नंदन जैन की दी गई है।

युवा मोर्चा के लिए नया चेहरा
साय ने युवा मोर्चा के लिए नए चेहरा पर भरोसा जताया है। साय ने पिछड़ा वर्ग पर दांव खेलते हुए रायपुर के अमित साहू को जिम्मेदारी सौंपी है। शालिनी राजपूत को महिला मोर्चा की कमान सौंपी गई है। वे कांकेर की रहने वाली और महिला मोर्चा की महामंत्री रही हैं। पूर्व विधायक श्यामबिहारी जायसवाल को किसान मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है।

आरंग के पूर्व विधायक व नवीन मारकण्डेय को अजा मोर्चा और विकास मरकाम को अजजा मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। अंबिकापुर के पूर्व जिलाध्यक्ष अखिलेश सोनी को पिछड़ा वर्ग मोर्चा, आरिफ खान को अल्पसंख्यक मोर्चा, नलनीश ठोकने को मीडिया प्रभारी और दीपक म्हस्के आईटी सेल का प्रभारी बनाया गया है।