स्कूली बस उड़ा रही नियम-कायदों की धज्जियां

0
124

अनूपपुर/चचाई। अमरकंटक ताप विद्युत गृह चचाई में कार्यरत गीतांजलि ट्रेवल्स की बस कॉन्वेंट स्कूल के लिए चचाई से अमलाई के लिए लगाई गई है, जो हमेशा विवादों व सुर्खियों में बनी रहती है। चाहे वह फिटनेस हो, परमिट या पेपर वर्क उक्त बस पर कार्रवाई होती रहती है। इस कारण स्कूली बच्चे व अभिभावक भी हलाकान होते रहते हैं, लेकिन मंडल के पीएसडब्ल्यू व सर्विसेस विभाग की तानाशाही के चलते यह बस वर्षों से लगातार संचालित हो रही है, जो लोगों के समझ से परे है। मंडल में ठेकेदार द्वारा लगाई गई गीतांजलि बस पर आरटीओ और पुलिस दोनों ही विभागों की मेहरबानी वर्षों से हो रही है। 22 नवंबर को मजिस्ट्रेट व यातायात विभाग अनूपपुर की संयुक्त वाहन चैकिंग के दौरान जरूरी दस्तावेज न होने पर बस को चचाई थाने में खड़ा कर दिया गया। मंडल में लगी बस को व्यक्तिगत लाभ के कारण नियमों को दरकिनार कर वहां चलाया जाता है। इस कारण स्कूली छात्रों की पढ़ाई का भारी नुकसान होता है। ताप विद्युत गृह के विभाग के अधिकारियों के लापरवाही के कारण अपूर्ण दस्तावेज होने के बाद भी कार्य आदेश दे दिया गया, जबकि अधूरे दस्तावेज होने पर दूसरी पार्टी को टेंडर दिया जाना चाहिए, किंतु ऐसा नहीं किया जाता।