सीएम ने की हर घर तिरंगा अभियान की शुरुआत

0
74

भोपाल विलिनीकरण आंदोलन के ऐतिहासिक जुमेराती पोस्ट ऑफिस पर फहराया तिरंगा

भोपाल। आज से हर घर तिरंगा अभियान की शुरुआत हुई है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल के जुमेराती पोस्ट ऑफिस पहुंचकर तिरंगा झंडा फहराया। इस मौके पर मेयर मालती राय, पूर्व महापौर आलोक शर्मा के अलावा बड़ी संख्या में स्थानीय लोग मौजूद रहे। सीएम ने तिरंगा झंडा फहराने के बाद स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिजनों का सम्मान किया। उद्धव दास मेहता के बेटे ओम मेहता का सम्मान किया। स्व. रतन गुप्ता के बेटे डॉ.आलोक गुप्ता, पूर्व राष्ट्रपति शंकरदयाल शर्मा के छोटे भाई, ललित जैन का सम्मान किया।

स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिजनों का सम्मान करते सीएम
स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिजनों का सम्मान करते सीएम

सीएम ने बताया क्यों जुमेराती में बनाया कार्यक्रम

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा ये पोस्ट ऑफिस विलिनीकरण के आंदोलन में संघर्ष का प्रतीक है। हमारे देश को 15 अगस्त 1947 को हमारे देश को आजादी मिली। लेकिन भोपाल 15 अगस्त को आजाद नहीं हो पाया था। भोपाल के नवाब, जूनागढ़ और हैदराबाद के निजाम ने अपनी रियासत को भारत में विलय करने से इनकार कर दिया था। इसके बाद विलिनीकरण आंदोलन चला। भोपाल की जनता सड़कों पर निकल पड़ी थी। भोपाल ही नहीं रायसेन, सीहोर के लाेग आंदोलन में शामिल रहते थे। आजादी के दीवानों ने इसी जुमेराती पोस्ट ऑफिस पर तिरंगा झंडा फहराया था। आजादी के दीवानों, विलिनीकरण आंदोलन के नायकों ने जुमेराती पोस्ट ऑफिस पर तिरंगा झंडा फहराकर आजादी की घोषणा की थी। अक्षय कुमार और रामचरण राय ने ये तिरंगा झंडा फहराया था। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया लेकिन आंदोलन चलता रहा। डॉ शंकरदयाल शर्मा, प्रेमनारायण श्रीवास्तव, ठाकुर लाल सिंह इस आंदोलन के प्रमुख थे। मथुरा बाबू, माेहिनी देवी, शांति देवी, उद्धव दास मेहता, रतनकुमार इस आंदोलन के नायक थे। उनके खिलाफ गिरफ्तारी वॉरंट जारी हुए। उन्हें भूमिगत होना पड़ा। नर्मदा तट पर नवाबी पुलिस ने गोलियां चलाई इसमें पांच वीर शहीद हुए थे। इसके बाद 1 जून 1949 को भोपाल का भारत में विलिनीकरण हुआ। इसलिए मैनें फैसला किया कि इस ऐतिहासिक जुमेराती पोस्ट ऑफिस पर तिरंगा झंडा फहराएंगे। हर भारतवासी को अपने घर, दुकान तिरंगा फहराएं। आज से 15 अगस्त तक हर घर में तिरंगा फहराना है। मैंने तो तिरंगा ले लिया आपने लिया कि नहीं। 15 अगस्त तक हर घर, हर मुहल्ले, हर गली में हमारा तिरंगा झंडा लहराना चाहिए।