शिवराज सिंह चौहान बोले- कांग्रेस और पंडित नेहरू ने भारत को बांटा, भारत जोड़ो यात्रा किसे एकजुट करेगी?

0
65

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू और कांग्रेस पर देश को ‘विभाजित’ करने का आरोप भी लगाया।
शिवराज सिंह चौहान बोले- कांग्रेस और पंडित नेहरू ने भारत को बांटा, भारत जोड़ो यात्रा किसे एकजुट करेगी?

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Madhya Pradesh Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने रविवार को पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू और कांग्रेस पर देश को ‘विभाजित’ करने का आरोप लगाया। साथ ही सवाल किया कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की अगुवाई में चलाई जा रही ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का मकसद किसे एकजुट करना है। उन्होंने विश्वास जताया कि कर्नाटक में भाजपा एक बार फिर सत्ता में आने वाली है।

भारत को किसने तोड़ा?
शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि एक तरफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं जो देश के लिए काम कर रहे हैं तो दूसरी तरफ राहुल बाबा (Rahul Gandhi) हैं जो भारत जोड़ों यात्रा कर रहे हैं। श्रीमान राहुल गांधी, हमें बताएं- भारत को किसने तोड़ा? सन 1947 में जल्द से जल्द सत्ता पाने की चाहत के साथ, अगर किसी ने देश को विभाजित किया, तो वह पंडित जवाहरलाल नेहरू (Pandit Jawaharlal Nehru) और कांग्रेस थे।

कांग्रेस के लोगों ने बांटा देश
शिवराज सिंह चौहान ने कलबुर्गी में भाजपा के पिछड़ा वर्ग की जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस के लोग हैं जिन्होंने भारत को विभाजित किया, लेकिन आज वे भारत जोड़ो (भारत को एकजुट करने) की बात कर रहे हैं। इस जनसभा में कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई (Karnataka Chief Minister Basavaraj Bommai), राज्य भाजपा संसदीय बोर्ड के सदस्य बीएस येदियुरप्पा, प्रदेश अध्यक्ष नलिन कुमार कतील, केंद्रीय मंत्री प्रल्हाद जोशी समेत कई नेता मौजूद थे।

इसलिये खड़गे को बनाया अध्यक्ष
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि एक तरफ भाजपा है जहां एक बहुत ही साधारण परिवार का व्यक्ति देश का प्रधानमंत्री बन सकता है दूसरी तरफ कांग्रेस है जो एक परिवार की पार्टी है। कांग्रेस मल्लिकार्जुन खड़गे को अपना अध्यक्ष बनाकर शेखी बघार रही है, लेकिन वे केवल ‘बलि का बकरा’ हैं। सोनिया और राहुल गांधी अच्छी तरह जानते हैं कि कांग्रेस कभी भी खत्म हो जाएगी और वे चुनाव नहीं जीत सकते, इसलिए उन्होंने खड़गे पर अपनी नाकामियों का ठीकरा फोड़ने के लिए उन्हें पार्टी का अध्यक्ष बनाया है।

ईश्वर के ‘आशीर्वाद’ के रूप में आए मोदी
शिवराज सिंह चौहान ने कटाक्ष करते हुए कहा कि ऐसे वक्त में जब कांग्रेस भारत जोड़ो की बात कर रही है, पार्टी के लोग ‘कांग्रेस छोड़ने’ के मूड में हैं। पूरे देश में कांग्रेस पार्टी कहीं नजर नहीं आती है। कर्नाटक में भी कांग्रेस बंटी हुई है। कर्नाटक में एक धड़े का नेतृत्व डीके शिवकुमार तो दूसरे का नेतृत्व सिद्धारमैया एवं अन्य का नेतृत्व मल्लिकार्जुन खड़गे कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग (एनसीबीसी) को संवैधानिक दर्जा देकर बड़ा काम किया है। उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस के राज में अत्याचार और अन्याय बढ़े तो नरेन्द्र मोदी ईश्वर के ‘आशीर्वाद’ के रूप में लोगों के सामने आए।