विकास का पौधा रोपा, पार्टी प्रत्याशियों ने लिया शहर को स्वच्छ और हरा-भरा बनाने का संकल्प

0
63

मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष ने किया निकाय चुनाव के लिए पार्टी के संकल्प पत्र का विमोचन

भोपाल, विशेष संवाददाता
मध्य प्रदेश नगरीय निकाय चुनाव के लिए बीजेपी ने संकल्प पत्र जारी कर दिया है… मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने यह संकल्प पत्र जारी किया… इस दौरान नगरीय निकाय चुनाव के सभी प्रत्याशी भी वर्चुअली जुड़े… भाजपा ने संकल्प पत्र में कई लोक-लुभावन वादे किए हैं. माना जा रहा है कि भाजपा नगरीय निकाय चुनाव के साथ ही अगले साल के विधानसभा चुनाव पर भी फोकस कर रही है… वही इस संकल्प पत्र को कांग्रेस झूठा संकल्प पत्र बता रही है

बीजेपी संकल्प पत्र के महत्वपूर्ण बिंदु
नगरीय विकास और स्वच्छता प्रबंधन के लिए अगले 5 सालों में 50 हजार करोड़ रुपए का निवेश किया जाएगा. एक लाख से ज्यादा संख्या वाले सभी शहरों में सीवेज सिस्टम और छोटे शहरों में फीकल स्लज और सेप्टेज मैनेजमेंट का इंतजाम किया जाएगा. कक्षा 5 तक सिलेबस में स्वच्छता को जोड़ा जाएगा.
शहरों में लघु और कुटीर उद्योग खोलने पर फोकस किया जाएगा.
नगरीय निकायों में सुशासन और कुशल प्रबंधन किया जाएगा. साथ ही मूलभूत सुविधाओं का विकास और निर्माण किया जाएगा. बड़े शहरों में विज्ञान पार्क और नॉलेज पार्क की स्थापना की जाएगी. नगर निगमों की सीमा में डॉग केयर सेंटर्स बनाए जाएंगे. पानी के निकास की व्यवस्था के लिए प्रत्येक नगर निगम में ड्रेनेज मास्टर प्लान बनाया जाएगा. नालों का प्रबंधन होगा फायर एनओसी की प्रक्रिया भी सरल होगी.
शहरों में ट्रैफिक व्यवस्था को बेहतर किया जाएगा और यातायात को सुगम बनाया जाएगा. एसी बसें चलेंगी शहरों में रिंग रोड बायपास अंडरपास और फ्लाईओवर का निर्माण होगा. सभी शहरों में बड़े बस स्टैंड बनेंगे मुफ्त वाई-फाई की सुविधा होगी.
नगरीय निकायों की राजस्व व्यवस्था को मजबूत किया जाएगा.
शहरों में मनोरंजन और ज्ञानवर्धन के लिए नॉलेज पार्क और आकर्षक स्थलों की व्यवस्था की जाएगी.
महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा दिया जाएगा.
सड़कों के निर्माण के लिए आगामी 2 सालों में दो हजार करोड़ की राशि खर्च की जाएगी.
सभी 16 नगर निगम में 3000 नई बसों का संचालन किया जाएगा.साथ ही अगले साल तक भोपाल और इंदौर में मेट्रो ट्रेन शुरू की जाएगी.
प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था को बेहतर करने के लिए शैक्षणिक संस्थाओं का मजबूत किया जाएगा. कॉलेज और स्कूल में कमजोर बच्चों के लिए स्मार्ट क्लासेज और मुफ्त कोचिंग की व्यवस्था होगी.
प्रदेश के प्रमुख शहरों को स्मार्ट सिटी की तर्ज पर विकसित किया जाएगा और उनमें आधुनिक सुविधाएं दी जाएंगी.
प्रदेश के ग्रामीण इलाकों की पशुओं पर निर्भरता को देखते हुए पशु कल्याण की दिशा में कदम उठाए जाएंगे. आवारा मवेशियों के लिए गौशाला बनाई जाएंगी और इनका संचालन नागरिकों की समिति करेगी.
श्रमिकों के लिए कार्य स्थल पर ही भोजन की व्यवस्था और बच्चों की पढ़ाई की व्यवस्था की जाएगी. श्रमिकों के लिए कार्य स्थल पर बच्चों के पालना घर झूला घर बनाए जाएंगे. मजदूरों को ₹10 में भरपेट खाना मिलेगा. अवैध कब्जे से मुक्त कराई गई जमीन मजदूरों में बांटी जाएगी. गरीबों को जमीन देकर पीएम आवास का लाभ दिया जाएगा.
अंत्योदय आजीविका मिशन के तहत लोगों को प्रशिक्षण दिया जाएगा. नगर निगम सीमा में आने वाले गांव के युवाओं को फूड प्रोसेसिंग के लिए जमीन उपलब्ध कराई जाएगी.
चिकित्सा और स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर किया जाएगा. 600 से ज्यादा संजीवनी क्लीनिक खुलेंगे सस्ती उच्च गुणवत्ता की पैथोलॉजी डायग्नोस्टिक सेंटर बनेंगे.
प्रदेश के प्रमुख धार्मिक स्थलों का कायाकल्प किया जाएगा, जिससे धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा मिले. पर्यटन स्थलों को हेलीकॉप्टर सेवा से जोड़ा जाएगा. उज्जैन महाकाल की तर्ज पर अन्य शक्तिपीठ और धार्मिक स्थलों का विकास होगा.
कला और संस्कृति पर भी फोकस किया जाएगा.
प्रदेश में बड़ी जनजातीय आबादी को देखते हुए जनजातीय समाज के कल्याण के लिए काम किए जाएंगे. जनजाति समाज की महापुरुषों की मूर्तियां चौराहों पर लगाई जाएंगी. आदिवासी क्रांतिकारी और बलिदानियों के नाम पर रखे जाएंगे प्रमुख चौराहों के नाम.
पर्यावरण स्वच्छता और ग्रीन बेल्ट के विकास पर जोर रहेगा.
आपदा प्रबंधन को भी बेहतर बनाया जाएगा.
अवैध कॉलोनियों को नागरिकों को मिलेंगी सभी सुविधाएं
ई रिक्शा ऑटो को बढ़ावा दिया जाएगा और मास्टर प्लान अंतर्गत सुनियोजित पार्किंग की व्यवस्था की जाएगी
मध्य प्रदेश में 16 नगरी निकाय चुनाव को लेकर जोरों- शोरों से अंतिम प्रचार दोनों ही राजनीतिक पार्टियों का देखने को मिल रहा है …वही अंतिम दौर में बीजेपी पार्टी ने अपना प्रदेश स्तरीय घोषणा पत्र जारी कर दिया है… हालाकि घोषणा पत्र आने वाले विधानसभा चुनाव पर फोकस है, हालांकि क्षेत्रीय घोषणा पत्र अभी बीजेपी ने जारी नहीं किया है.. मगर जिस प्रकार से आज संकल्प पत्र जारी किया है उससे साफ हो गया है कि आने वाले चुनाव के लिए भी बीजेपी ने तैयारी कर ली है …वही कांग्रेस पार्टी इस घोषणापत्र को झूठा संकल्प पत्र बता रही है…
बीजेपी किसी किसान की कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती जिसके लिए आपस नगरी निकाय सीटों पर स्टार प्रचारक या ने केंद्रीय मंत्री भी प्रचार करते दिखाई देंगे हालांकि आज इंदौर और उज्जैन में केंद्रीय मंत्री ज्योतिराज सिंधिया मैं उतरे हैं वहीं कांग्रेस ने अपना घोषणा पत्र प्रदेश स्तरीय जारी नहीं किया है मगर बात की जाए क्षेत्रीय घोषणापत्र धीरे धीरे कर कांग्रेस जारी कर रही है मगर कांग्रेस अपने घोषणा पत्र में 15 साल की कमलनाथ सरकार के बारे में आम जनता को बताते नजर आ रही है हालांकि बीजेपी का कहना है कि कांग्रेस पार्टी लिखित में धोखा देने वाली पार्टी है..
प्रदेश में अंतिम चरण का संग्राम देखने को मिल रहा है.. अब देखना होगा कि आम जनता के दिल में किस पार्टी का घोषणा पत्र अपनी जगह बना पाता है और नगरी निकाय चुनाव में किस पार्टी को जनता सत्ता की कुर्सी में बैठ आती है..