राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान जारी

0
78

MP में विस अध्यक्ष गौतम, CM शिवराज, पूर्व CM कमलनाथ समेत विधायकों ने डाला वोट

भोपाल। देश के 16वें राष्ट्रपति के चुनाव के लिए मतदान जारी है. इस चुनाव में देश भर में कुल 4800 निर्वाचित सांसद और विधायक भाग ले रहे हैं. मध्यप्रदेश में भी वोटिंग जारी है. एमपी विधानसभा के मतदान कक्ष में शुरूआती घंटे में विधायकों में वोटिंग के लिए खासा उत्साह दिखा. विधानसभा भवन के मतदान केंद्र में विधायकों की लंबी कतार लगी दिखाई दी. सभी विधायक कतार में लगकर मतदान कर रहे हैं. सबसे पहले विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट मतदान किया है.
राष्ट्रपति चुनाव को लेकर बीजेपी समेत सपा, बसपा और 4 निर्दलियों समेत के सभी 127 वोट पूरे हो गए हैं. अब तक कुल 211 वोट डाले गए हैं. कांग्रेस के विधायक आखिरी वक्त में वोट देने आ रहे हैं. नेता प्रतिपक्ष डॉ.गोविंद सिंह, एनपी प्रजापति, विजय लक्ष्मी साधो, सज्जन वर्मा मतदान केंद्र पहुंचकर वोट डाला है.
कांग्रेस विधायक अंतरात्मा की आवाज पर वोट देंगे- मंत्री भूपेद्र सिंह
राष्ट्रपति चुनाव में एमपी बीजेपी को चौंकाने वाले परिणामों की उम्मीद है. नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि कांग्रेस छोड़कर सभी दल द्रौपदी मुर्मू के साथ हैं. उम्मीद है कांग्रेस के साथी भी अंतरात्मा की आवाज पर वोट देंगे.
बीजेपी क्रॉस वोटिंग, खरीदना, दबाने-डराने की करती है राजनीति- कमलनाथ
क्रॉस वोटिंग की आशंका पर पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा कि बीजेपी क्रॉस वोटिंग, खरीदना, दबाने-डराने की राजनीति ही सकती है. एमपी देश में सर्वाधिक आदिवासी आबादी वाला राज्य है. बीजेपी बताए उनके साथ क्या न्याय किया ?
विधानसभा में मतदान को लेकर खाता तैयारियां
इससे पहले मध्यप्रदेश विधानसभा में राष्ट्रपति चुनाव को लेकर खासा तैयारियां की गई थी. मुख्य सचिव एपी सिंह ने बताया था कि सभी विधायकों को पूरी तरह ट्रेंड करने मॉक ड्रिल किया गया. परिसर में ख़ास फ़ोटो प्रदर्शनी की तैयार की गई है. ये प्रदर्शनी प्रदेश के गौरवशाली इतिहास को दर्शाती है. विधायकों को वोट देने के लिए खास स्याही वाला पैनल भी दिया गया है. वोटिंग एरिया में मोबाइल ले जाने पर पूरी तरह से प्रतिबंधित किया गया है.
बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू की जीत के साथ ही देश के शीर्ष संवैधानिक पद पर पहली बार किसी आदिवासी महिला का ताजपोशी होना तय माना जा रहा है. 27 पार्टियों के समर्थन से द्रौपदी मुर्मू का पलड़ा भारी है. वहीं विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को सिर्फ 14 पार्टियों के समर्थन मिला है. राष्ट्रपति चुनाव के लिए प्राप्त मतों की गिनती 21 जुलाई को होगी. 25 जुलाई को नए राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण समारोह होगा.