राजधानी में जमकर बरसे बदरा

0
72

भोपाल। मध्यप्रदेश में बीते 4 दिन से लगातार बारिश हो रही है। भोपाल में रविवार दोपहर तेज बारिश हुई। शनिवार को सबसे ज्यादा पानी सिवनी में करीब ढाई इंच तक गिरा। छिंदवाड़ा, दमोह, जबलपुर, खजुराहो, मंडला, रीवा, सागर, सतना, उमरिया, धार, इंदौर, खरगोन और उज्जैन में भी बारिश हुई। मौसम विभाग के अनुसार रविवार और सोमवार को भी इसी तरह मौसम बना रहेगा। दो दिन का अल्प विराम लग रहा है। सोमवार शाम से बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम बन रहा है। इससे 4 जुलाई की शाम से एक बार फिर मौसम बदलेगा। कई इलाकों में भारी से भारी बारिश हो सकती है। इंदौर-भोपाल में भी भारी बारिश का दौर आएगा।

दिन का पारा लुढ़का

बारिश के कारण अब मध्यप्रदेश में अधिकतम तापमान में काफी गिरावट दर्ज की जाने लगी है। अधिकांश इलाकों में दिन और रात के तापमान में करीब 10 डिग्री का अंतर रह गया है। इंदौर में अधिकतम पारा 32 और न्यूनतम 23 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। भोपाल में दिन का पारा 35 और रात का 25, ग्वालियर में अधिकतम तापमान 40 और न्यूनतम 26 डिग्री रहा। जबलपुर में दिन का पारा 32 रहा, रात के तापमान से महज 8 डिग्री का अंतर रहा।

खंडवा में रविवार को भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा का रोड शो बरसते पानी में हुआ।
खंडवा में रविवार को भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा का रोड शो बरसते पानी में हुआ।

4 जुलाई से बंगाल की खाड़ी में बनेगा लो-प्रेशर

मौसम विभाग के अनुसार 4 जुलाई से बंगाल की खाड़ी में एक लो प्रेशर बनते दिख रहा है। अगले 24 घंटे में मौसम बदलेगा और बारिश जोर पकड़ेगी। इसके बाद 4 से 5 दिन तक जबलपुर, इंदौर, भोपाल और ग्वालियर समेत अधिकांश इलाकों में हल्की से भारी बारिश हो सकती है। इसके अलावा कुछ इलाकों में अति भारी बारिश की संभावना है।

प्रदेश भर में बारिश की स्थिति

  • यहां पर सामान्य से कम बारिश
  • डिंडौरी, बालाघाट, नरसिंहपुर, रायसेन, निवाड़ी, रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली, टीकमगढ़, उमरिया, अलीराजपुर, बड़वानी, भिंड, दतिया, भोपाल, बुरहानपुर, धार, इंदौर, झाबुआ, खरगोन, मंदसौर, नीमच, रतलाम और शाजापुर।
  • यहां पर अधिक बारिश हुई
  • विदिशा, श्योपुरकलां, खंडवा, अशोकनगर, जबलपुर।
  • यहां सामान्य बारिश हुई
  • मंडला, सिवनी, छिंदवाड़ा, बैतूल, नर्मदापुरम, हरदा, सीहोर, देवास, उज्जैन, अगर मालवा, राजगढ़, गुना, शिवपुरी, ग्वालियर, मुरैना, सागर, दमोह, छतरपुर, पन्ना, कटनी, शहडोल और अनूपपुर।