चुनाव हरवाने वालों पर एक्शन लेगी कांग्रेस

0
60

भोपाल – नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पार्टी की ही फजीहत बढ़ाई है। पार्टी के कार्यकर्ताओं के विरोध और भितरघात को लेकर कांग्रेस कार्रवाई करने की तैयारी कर रही है। प्रदेश के सभी जिलों से पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने वाले कार्यकर्ताओं की फेहरिस्त तैयार कर चुकी और इसी के आधार पर उन्हें अनुशासनहीनता को लेकर पार्टी से बर्खास्त भी किया जाएगा।
प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने बागियों की सूची तैयार करने के लिए कहा था। इसके साथ ही 20 वरिष्ठ नेताओं की टीम भी बनाई है, जो विरोधी गतिविधियों में शामिल रहे कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। कांग्रेस प्रवक्ता संगीता शर्मा का कहना है कि साल 2023 के विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी विरोधी कामकाज करने वाले कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। निकाय और पंचायत चुनाव में जिन कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई थी। उन्होंने बेहतर काम नहीं किया है। इसी वजह से पार्टी की तरफ से कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि भोपाल में पार्षद के टिकट वितरण के बाद ही विरोध देखने के लिए मिला। यहां तक कि महापौर प्रत्याशी विभा पटेल के खिलाफ भी पार्टी कार्यालय में नाराजगी कार्यकर्ताओं में जाहिर की थी। यह स्थिति भोपाल की ही नहीं, बल्कि प्रदेश के कई जिलों में देखने के लिए मिली। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने जमकर आलाकमान के खिलाफ नारेबाजी की थी। हालांकि चुनाव के वक्त वरिष्ठ नेताओं ने बागी हुए कार्यकर्ताओं को मना लिया था लेकिन चुनाव में कार्यकर्ताओं ने पार्टी का साथ नहीं दिया। यही वजह है कि कांग्रेस के कई दिग्गज नेता निकाय चुनाव और पंचायत चुनाव में हार गए। इसलिए साल 2023 में ऐसी स्थिति न बने। इसके लिए भितरघात करने वाले कार्यकर्ताओं को कांग्रेस पार्टी से निलंबित या निष्कासित कर सकती है।