केमिकल कम्पनी द्वारा बहाया जा रहा अपशिष्ट खुली नालियों में पानी

0
64

रात के अंधेरों में बहाया जाता है वेस्ट पानी

केमिकल फैक्ट्री के वेस्ट से कई तालाब नदी एवं भू जल स्त्रोत हो रहे प्रदूषित

ग्राम झायड़ॉ के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के निवासी कई बार कर चुके हैं ट्रेंट केमिकल कम्पनी की शिकायत

मेघनगर। पश्चिमी मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले के मेघनगर में औद्योगिक क्षेत्र में स्थित ट्रेंट केमिकल कम्पनी द्वारा अनुपचारित अपशिष्टों को खुले नालों में धड़ल्ले से छोड़ा जा रहा है। पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के नियमों को ताक में रखकर ट्रेंट केमिकल कम्पनी द्वरा छोड़े गए वेस्ट अपशिष्ट पानी से ग्रामीण क्षेत्रों में भयंकर जल प्रदूषण हो रहा है। जब कि केमिकल कम्पनी का यह कैमिकल युक्त लाल,काला पानी झाबुआ का गांव झायड़ॉ तक नालियों से होते हुए गारिया नाले से पहुँच रहा हैं जो झायड़ा में बने स्टॉप डेम शहीत अनास नदी में जा कर मिल रहा। और आनास नदी को बुरी तरह से जल प्रदूषण से प्रभावित कर रहा है..ट्रेंट केमिकल द्वारा फैलाया जा रहा जल प्रदूषण ग्रामीण क्षेत्र को लगातार अपनी आगोश में ले रहा जो की ग्रमीणों के लिए भयंकर चिंता का सबब बना हुआ है।

ग्राम झायड़ा के नवनिर्वाचित सरपंच रामचंद्र निनामा का कहना है कि लगातार ग्रामीणों की शिकायत मिल रही है मवेशी मर रहे हैं बच्चों के नहाने व इस्तेमाल करने के लिए गांव में पानी नहीं बचा ट्रेंट केमिकल कम्पनी से लगातार केमिकल युक्त लाल,कला पानी हमारे जल स्त्रोत क्षेत्रों में आता है और अच्छे पानी को भी प्रदूषित कर रहा है जिससे गंभीर समस्या बनी हुई है अब यह दूषित व गन्दा पानी वाली फैक्ट्री बंद हो जाना चाहिए या तो ये कैमिकल युक्त गन्दा पानी छोड़ना बंद करे।

..जहां एक और प्रदेश के मुखिया जन हितेषी अभियान चलाकर…जल है तो कल है…जैसे नारे को साक्षात्कार कर रहे हैं तो इसके विपरीत मेघनगर ट्रेंट केमिकल कम्पनी द्वारा जल प्रदूषण फैला कर शासन-प्रशासन की आंखों में धूल झोंक शासन प्रशासन को खुला चैलेंज दे रहा है…अब प्रशासन कितनी जल्दी इस जल प्रदूषण फैलाने वाले प्लांट पर नकेल कसे या इसे सिल् करता है यह शासन प्रशासन को तय करना है।