एमपी के चुनावी रण में दिग्गजों की एंट्री

0
57

हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने निकाय चुनाव के साथ मध्य प्रदेश में अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत कर दी है, आज भोपाल में असदुद्दीन ओवैसी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एक और बड़ा ऐलान किया. उन्होंने कहा कि AIMIM मध्य प्रदेश में 2023 में होने वाला विधानसभा चुनाव भी लड़ेगी. ओवैसी ने कहा कि AIMIM मध्य प्रदेश में तीसरे विकल्प के रूप में उभरेगा.
2023 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी AIMIM
असदुद्दीन ओवैसी ने भोपाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि AIMIM 2023 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी. उन्होंने कहा कि सत्ता को लेकर कहा कि मुसलमान सरकार नहीं बदल सकते, लेकिन आप अपने उम्मीदवारों को कामयाब करिए, क्योंकि हमारी लड़ाई सत्ता में आने की नहीं हिस्सेदारी की है.
कांग्रेस पर साधा निशाना
इस दौरान AIMIM के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी जल्द से जल्द देश से खत्म हो, कांग्रेस की वजह से दो बार मोदी प्रधानमंत्री बने मध्यप्रदेश में सरकार बनी, कांग्रेस नहीं चाहती कि मुसलमान राजनीति को नहीं समझे , कांग्रेस दिल्ली में 100 लोगों को जमा नहीं कर पाती है. वहीं महाराष्ट्र में होने वाले फ्लोर टेस्ट को लेकर ओवैसी ने कहा कि इस मामले में हमारी पार्टी विचार कर रही है.
उदयपुर की घटना जुल्म है
वहीं उदयपुर की घटना को लेकर ओवैसी ने राजस्थान पुलिस पर सवाल उठाते हुए कहा कि अगर पुलिस चौकस होती तो टेलर को धमकी मिलने के बाद पुलिस हरकत में आती तो ऐसी घटना राजस्थान में नहीं होती. उदयपुर की घटना जुल्म है अपने हाथ में कानून लेकर कत्ल का अधिकार किसी को नहीं है. राजस्थान सरकार से उम्मीद की वो कड़ी से कड़ी कार्रवाई करे. उदयपुर की घटना आतंक है.
बता दें कि मध्य प्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव में ओवैसी की पार्टी ने राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के सात शहरों में प्रत्याशी उतारे हैं. इसलिए असदुद्दीन ओवैसी खुद पार्टी के प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार कर रहे हैं.
MP निकाय चुनाव में इस बार आम आदमी पार्टी भी पूरी ताकत लगाती नजर आ रही है, खास बात यह है कि अब पार्टी के बड़े नेता भी प्रचार के लिए मध्य प्रदेश आ रहे हैं. केजरीवाल 2 जुलाई को सिंगरौली में सभा करेंगे. जबकि पंजाब के सीएम भगवंत मान और मनीष सिसोदिया भी मध्य प्रदेश में प्रचार करेंगे.
भगवंत मान, मनीष सिसौदिया और संजय सिंह भी करेंगे प्रचार
एमपी निकाय चुनाव में ‘आप’ की एंट्री ने इस बार मुकाबला रोचक बना दिया है. खास बात यह है कि आम आदमी पार्टी के सभी बड़े नेता भी मध्य प्रदेश में प्रचार करेंगे. खुद सीएम केजरीवाल के अलावा, भगवंत मान, मनीष सिसौदिया और संजय सिंह भी जल्द ही मध्य प्रदेश का दौरा करेंगे. ये सभी नेता प्रदेश के अलग-अलग क्षेत्रों में पार्टी प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करेंगे.
2023 के विधानसभा चुनाव पर ”आप” की नजर
दरअसल, पंजाब में मिली शानदार जीत के बाद आम आदमी पार्टी उत्साहित है, इसलिए पार्टी अब अपने विस्तार की तैयारियों में जुटे हैं. खास बात यह है कि अगले साल जिन राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं वहा आप का खास फोकस है. ऐसे में मध्य प्रदेश के निकाय चुनाव के जरिए आप 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए अपनी जमीन तैयार करने में जुटी है. ताकि पार्टी को विधानसभा चुनाव में सफलता मिले.
2 जुलाई को केजरीवाल करेंगे प्रचार की शुरुआत
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 2 जुलाई से मध्य प्रदेश में प्रचार की शुरुआत करेंगे. केजरीवाल सिंगरौली में आप आदमी पार्टी की महापौर प्रत्याशी के समर्थन में सभा और रोड शो करेंगे. इसके बाद पार्टी के दूसरे नेताओं का प्रचार भी शुरू होगा.
आप ने उतारे महापौर के प्रत्याशी
आम आदमी पार्टी ने मध्य प्रदेश के सभी 16 नगर निगमों में महापौर के प्रत्याशी उतारे हैं, पार्टी अपने दिल्ली मॉडल के सहारे मतदाताओं को लुभाने में जुटी है, जबकि पंजाब में मिली जीत का उदाहरण भी जनता को दे रही है. यही वजह है कि 11 जुलाई तक प्रदेश के सभी बड़े नेता चुनाव प्रचार में ताकत लगा रहे हैं. मध्य प्रदेश में दो चरणों में निकाय चुनाव हो रहे हैं, जहां 6 जुलाई और 13 जुलाई को वोटिंग होगी है, ऐसे में आप के सभी नेता आने वाले दिनों में प्रचार करेंगे.