आध्यात्मिक क्रांति से ही मूल्य निष्ठ समाज की स्थापना संभव है- माननीय राज्यपाल मंगू भाई पटेल जी

0
87
मूल्य उपवन के प्रथम चरण का उद्घाटन राज्यपाल जी के कर कमलों से संपन्न हुआ प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के सहनिकाय राज योगा एजुकेशन एंड रिसर्च फाउंडेशन के द्वारा अचारपुरा में विकसित हो रहे नए औद्योगिक क्षेत्र के अंतर्गत विशेष शिक्षा प्रक्षेत्र में मूल्य शिक्षा प्रशिक्षण एवं शोध केंद्र, मूल्य उपवन का निर्माण कार्य चल रहा है।
आज इसके प्रथम चरण का उद्घाटन माननीय राज्यपाल महोदय के कर कमलों से हुआ। माननीय राज्यपाल जी ने उद्घाटन पटल का अनावरण किया और रिबन काटकर प्रथम प्रवेश किया । मूल्य उपवन के मॉडल पर चर्चा हुई। उन्होंने सभागार और मेडिटेशन हाल का अवलोकन किया।मैडिटेशन हॉल में राज्यपाल ने दो मिनिट मैडिटेशन किया । इस अवसर पर” स्वर्णिम युग के लिए नई शिक्षा विषय” पर शिक्षा विद शिक्षा सम्मेलन भी आयोजित किया गया, जिसका दीप प्रज्वलित कर राज्यपाल महोदय जी ने उद्घाटन किया। माननीय राज्यपाल ने अपने उद्बोधन में कहा कि वे विगत 32 वर्षों से ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के संपर्क में हैं और वे ब्रह्माकुमारी परिवार के सदस्य ही हैं । उन्होंने कहा कि पद मेरा राज्यपाल है, लेकिन मैं बेटा हूँ और बेटा कितना भी बड़ा हो जाये बेटा ही होता है। आपने कहा की यह मूल्य शिक्षा केंद्र शाश्वत मूल्यों और जीवन सूत्रों को आधुनिक विज्ञान सम्मत ढंग से लोगों तक पहुंचाकर सकारात्मक वातावरण निर्मित करेगा। शुभ अवसर पर माउंट आबू राजस्थान से ब्रह्माकुमारी संस्था के कार्यकारी सचिव राजयोगी बीके मृत्युंजय जी भी उपस्थित थे। साथ ही राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कुलपति सुनील कुमार गुप्ता मध्य प्रदेश निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग के अध्यक्ष डॉ भरत शरण एआईसीटी ई मध्य क्षेत्र के क्षेत्रीय अधिकारी चंद्रशेखर वर्मा जी भी उपस्थित थे । भरत शरण ने कहा कहा कि वास्तव में हमारे व्यवहार से मूल्यों का हस्तांतरण अत्यंत प्रभावी ढंग से होता है । राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ सुनील कुमार गुप्ता जी ने कहा कि यदि हम अपने विद्या उपार्जन के काल में सत्य बोलने की आदत डालें तो जीवन में 90 %अशांति से मुक्त हो सकते हैं। एआईसीटीई के मध्य क्षेत्र के क्षेत्राधिकारी चंद्रशेखर वर्मा जी ने एआईसीटीई द्वारा मूल्य शिक्षा की दिशा में उठाए गए कदमों का भी जिक्र किया। ब्रह्माकुमारी संस्थान के भोपाल जोन की निर्देशिका राजयोगिनी ब्रह्माकुमारी अवधेश जी ने स्वागत भाषण दिया ।ब्रह्माकुमारी संस्थान से पधारे ब्रह्मा कुमारीज कार्यकारी सचिव ब्रह्माकुमारीज के कार्यकारी सचिव मृत्युंजय जी ने स्वर्णिम युग लाने के लिए शिक्षा की दिशा क्या हो इस पर प्रकाश डाला । इस अवसर पर एमपीआईडीसी के कार्यकारी प्रबंधक धुर्वे जी, पूर्व प्रबंधक कार्यकारी निदेशक राजवर्धन श्रीवास्तव जी ब्रिगेडियर अवधेन्द्र प्रताप सिंह, आरकेडीएफ यूनिवर्सिटी के वीसी एम एल कोरी सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे इस कार्यक्रम में उद्घाटन की इस बेला पर ओरिएंटल इंस्टीट्यूट आरकेडीएफ यूनिवर्सिटी भाभा इंजीनियरिंग आदि आदि संस्थानों के छात्र एवं फैकल्टी ने भाग लिया लगभग 1000 लोग मूल्य उपवन के प्रथम चरण के उद्घाटन अवसर के साक्षी बने मूल्य उपवन के प्रबंधक बी के किरण में कार्यक्रम का संचालन किया । बी के सुनीता होशंगाबाद ने सभी को मैडिटेशन कराया। बी के शैलजा छतरपुर ने सभी का आभार व्यक्त किया।