अपराधियों के फिंगर प्रिंट की ट्रेनिंग लेंगे कोर्ट मोहिर्रर

0
123

कल पुलिस कंट्रोलरूम में होगा आयोजन, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट करेंगे कार्यशाला का शुभारंभ

आर्य संवाददाता, जबलपुर। लोक अभियोजन संचालनालय मप्र के डीजी पुरषोत्तम शर्मा आईपीएस के आदेशानुसार जिले एवं तहसील में पदस्थ समस्त कोर्ट मोहिर्ररों की दक्षता एवं बेहतर नियंत्रण के लिए पुलिस कंट्रोलरूम जबलपुर में कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रवीण कुमार सिन्हा व पुलिस अधीक्षक अमित सिंह मुख्य आतिथ्य में उपस्थित रहेंगे। कार्यशाला में कार्यक्रम की अध्यक्षता डीपीओ शेख वसीम करेंगे। एडीपीओ व मीडिया अधिकारी भगवत उईके ने जानकारी देते हुए बताया कि इस कार्यशाला में फिंगर प्रिट प्रभारी उप पुलिस अधीक्षक द्वारा अपराधियों के अंगुल चिन्ह लेने के बारे में प्रशिक्षण दिया जाना है एवं अभियोजन अधिकारी दीपक बंसोड, भगवत उईके, दुर्गेश ताराम, देवार्षि पिंचा, जयवीर यादव इत्यादि के द्वारा कोर्ट मोहिर्ररों को प्रशिक्षण के संबंध में पावर पॉइंट प्रेजनटेंशन के द्वारा व्याख्यान दिये जायेंगे। डीपीओ शेख वसीम ने बताया गया कि कोर्ट मोहिर्रर आरक्षक एवं प्रधान आरक्षक स्तर के कर्मचारी होते है। उनका कार्य न्यायालय में अत्यन्त महत्वपूर्ण है। वह न्यायालय की सुरक्षा एवं लोक अभियोजक के सहयोग हेतु पुलिस प्रशासन की ओर से नियुक्त महत्वपूर्ण कर्मचारी होता है। इसलिए उनके बेहतर कार्य हेतु उनका प्रशिक्षण अत्यन्त आवश्यक है। उनके कार्यों में आने वाली कठिनाइयों को प्रशिक्षण के माध्यम से दूर किया जाएगा।