त्रिपुरा में विपक्ष पर बरसे अमित शाह, बोले- वामपंथियों के राज में हुई 39 से ज्यादा कार्यकर्ताओं की हत्या

0
72

अगरतला। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह त्रिपुरा के एक दिवसीय दौरे पर हैं। अमित शाह ने अगरतला में एक रैली को संबोधित किया। शाह ने कहा कि हमारे देश की आजादी को 75 वर्ष पूरे हो गए हैं। साथ ही खूबसूरत त्रिपुरा को भी बने हुए 50 साल पूरे हो गए हैं।

विपक्ष पर निशाना

अमित शाह ने रैली के मंच से विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा। शाह ने कहा कि 25 साल तक कम्युनिस्टों ने त्रिपुरा में राज किया था। 2015 में जब मैं यहां आया था, हर कोई यहां त्राहिमाम कर रहा था। उन्होंने कहा कि 25 साल तक कम्युनिस्टों ने यहां गरीबों के नाम पर राज किया, लेकिन गरीबों के लिए कुछ नहीं किया। भाजपा और अन्य दलों के 39 से ज्यादा कार्यकर्ताओं की हत्या की गई। उस समय भाजपा ने तय किया था कि हम त्रिपुरा में एक आंदोलन खड़ा करेंगे।

शाह ने आगे कहा, ‘मुझे आज भी याद है जब पहली बार मैंने इंटीरियर त्रिपुरा में पहली बार चलो पलटाई का नारा दिया तो, लोगों में जो उत्साह दिखा उससे ही हमें पता चल गया था कि यहां परिवर्तन होने वाला है। भाजपा सरकार बनने के चार साल बनने के बाद मैं देख रहा हूं कि जो त्रिपुरा पहले ड्रग्स और नशे के कारोबार से त्रस्त था, वो त्रिपुरा आज आत्मनिर्भर बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा है।’

रेलवे से जुड़ी दर्जनों योजनाओं को पूरा किया

शाह ने भाजपा सरकार के विकास कार्यों को भी गिनाया। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा के हर गरीब के घर में बिजली पहुंचाने का काम भाजपा सरकार ने किया है। हमारी सरकार ने त्रिपुरा में रोड और रेलवे से जुड़ी दर्जनों योजनाओं को पूरा किया है। त्रिपुरा की सरकारी नौकरियों में अब 33 प्रतिशत आरक्षण माताओं-बहनों को मिलने वाला है। त्रिपुरा के युवाओं के लिए नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी के परिसर की आधारशिला हम यहां रखने वाले हैं। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि इन 4 साल में हमने त्रिपुरा को संभालने का काम किया है। अगले साल जब 5 साल हो जाएंगे तो उसके बाद एक मौका और दे दीजिए, हम त्रिपुरा को देश में नंबर एक राज्य बनाएंगे।

शाह ने कहा कि पहले यहां उग्रवाद, घुसपैठ, बंद, तनाव, भ्रष्टाचार की चर्चा होती थी। आज पूरे नॉर्थ ईस्ट को मोदी जी ने अष्ट लक्ष्मी का स्वरूप देकर विकास, कनेक्टिविटी, इंफ्रास्ट्रक्चर, स्पोर्ट्स, इंवेस्टमेंट और जैविक खेती का बड़ा हब बनाने का काम किया है। जहां-जहां कम्युनिस्टों की सरकार होती है, वहां राजनीतिक विरोधियों के खून से होली खेली जाती है, लेकिन मैं गर्व से कह सकता हूं कि त्रिपुरा में राजनीतिक हत्याओं पर पूर्ण विराम लगाने का काम हमारे मुख्यमंत्री विप्लब देव जी ने किया है।

बता दें कि अमित शाह मंगलवार को एक दिवसीय दौरे पर त्रिपुरा पहुंचे हैं। अमित शाह विमान के जरिए एमबीबी एयरपोर्ट पहुंचे। राज्य के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने उनका स्वागत किया।

त्रिपुरा सुंदरी मंदिर के दर्शन किए

अमित शाह ने उदयपुर में त्रिपुरा सुंदरी मंदिर के दर्शन भी किए। सीएम बिप्लब देब के ट्विटर हैंडल से कुछ तस्वीरें ट्वीट की गई हैं। सीएम ने कहा कि बुधवार को राज्य की भाजपा-आइपीएफटी गठबंधन सरकार के चार साल पूरे हो रहे हैं। गृह मंत्री अमित शाह के साथ माता त्रिपुरा सुंदरी से राज्य के लोगों की सेवा के लिए अपना जीवन समर्पित करने के लिए हमें शक्ति प्रदान करने के लिए प्रार्थना की।

मंदिर के सौंदर्यीकरण का जायजा लिया

इसके बाद अमित शाह ने मंदिर के सौंदर्यीकरण के लिए प्रस्तावित योजना का निरीक्षण भी किया। सीएम ने कहा कि हम 2022 के अंत तक मंदिर के जीर्णोद्धार को पूरा करने की योजना बना रहे हैं।