प्रेम प्रकाश आश्रम अमरापुर दरबार जयपुर की और से एस एम एस हॉस्पिटल में नित्य किया जा रहा है फ्री भोजन वितरण एवं स्वल्पाहार

0
95

रही दुनिया खां दूर, कई भगीति भरपूर,
सही सख्तियूं ऐ सूर, पातों नूरानी सो नूर

जयपुर ईखबर : प्यासे को पानी एवं भूखे को खाना और पीड़ित को मीठे बोल आज के इस कलयुग में अमृत का काम करते हैं प्रेम प्रकाश अमरापुर दरबार जयपुर की ओर से राजधानी स्थित सवाई मानसिंह हॉस्पिटल के बांगड़ परिसर में नित्य सुबह 9:00 से 11:00 तक स्वल्पाहार एवं भरपूर प्रसादी वितरण की जाती है जिसमें मरीजों के परिजन एवं देखने आए आगंतुक तृप्ति पाते हैं!

ईखबर टीम ने जब वितरण करने आए अमरापुर क्षेत्र के सेवादारों से बात की तो उन्होंने विस्तार से मिशन एवं दरबार के बारे में बताया, आइए जाने!

क्या है अमरापुर दरबार?
प्रेम प्रकाश आश्रम अमरापुर दरबार जयपुर एमआई रोड पर स्थित है, वर्ष 1947 मैं स्थापित अमरापुर दरबार जयपुर पिछले 25 सालों से समाजसेवी कार्य व पुलाव एवं ग्यारस के दिन भरपूर रोटी सब्जी वितरित की जाती है

कार्यालय कहां स्थित है?

Amrapur Ashtan, SHRI PREM PRAKASH VISHRAM GRAH, MI Rd, Sindhi Camp, Jaipur, Rajasthan 302001
संपर्क सूत्र क्या है 0141 237 2424

अमरापुर दरबार जयपुर – सतनाम सखी सतनाम शिवओम

दान या डोनेशन कैसे कर सकते हैं?
आश्रम में पहुंचकर दान पेटी में आप नगर दान या रसीद कटा कर दान दे सकते हैं, कोई भी सामान दान दे सकते हैं, 1 दिन के प्रसाद वितरण के लिए भी आप फरियाद कर सकते हैं!

विधवाओं एवं असहाय लोगों को स्वरोजगार स्थापित करने एवं स्वयं से जीवन यापन में मदद के लिए अमरापुर दरबार एमआई रोड पर सभी को शिक्षित करने एवं सहयोग करने के लिए समर्पित है,

7 मर्चरी बॉक्स एवं 3 शव वाहन ( शांति वाहन) उपलब्ध है कॉल करें 9314567466
एमआई रोड पर 166 कमरे जिसमें आप ₹200 प्रतिदिन नॉमिनल चार्ज पर रहने की व्यवस्था है डबल बैडरूम प्रसाद एवं सुपर स्पेशलिटी फ्री
असहाय एवं मरीजों के लिए एंबुलेंस भी उपलब्ध है,

बांगड़ परिसर में नित्य वितरण के लिए सेवाएं प्रदान करने वाले सेवादार है : श्री मुरलीधर जेठानी, वासुदेव ग्वालानी, रामचंद मेठवानी, हरिश चेतवानी, भगवान दास

रसोई में यह सेवादार दे रहे हैं अपनी सेवाएं
वासुदेव ग्वालानी, जीवत राम, गिरधारी लाल देवीदास देवीदास एवं अन्य सेवादार मिलकर हाइजीन तरीके से प्रसादी बनाते हैं, रोटियां मशीन से तैयार की जाती है, प्रतिदिन 25 से 30 डेग बनते हैं जिसमें जिसमें प्रति डेग 12 किलो चावल और सब्जियों से तैयार किया जाता है।

जयपुर में इस जगह किया जा रहा है प्रसादी वितरण
01 सवाई मानसिंह हॉस्पिटल के बांगड़ परिषद गेट नंबर 5 पर सुबह 9:00 से 11:00
02 अमरापुर दरबार आश्रम सुबह 8:00 बजे से शाम 8:00 बजे तक प्रसाद वितरण

दरबार से उपलब्ध सभी सेवाओं के लिए यहां पर सेवादार निस्वार्थ सेवा करते हैं जिन्हें भी सेवाएं देनी होती हैं संपर्क करके सेवाएं दे सकते हैं, शहर के प्रतिष्ठित व्यापारी निस्वार्थ अपनी सेवाएं अमरापुर दरबार को समर्पित करते हैं और नियमित अपनी सेवाएं और प्रसाद वितरण के लिए अपने कारोबारी समय में से समय निकालते हैं।

मुख्य प्रवर्तक एवं स्थापक श्री टेऊँ राम जी

सिंध में जन्मे श्री टेऊँ राम जी महाराज के मुख्य शिष्य श्री सर्वानंद जी महाराज जयपुर पधारे एवं 1947 में उन्होंने अमरापुर दरबार जयपुर में स्थापित किया, उसके बाद जन्म से सूरदास श्री स्वामी शांति प्रकाश जी महाराज ने दरबार का संचालन किया, उनके बाद फिर हरिदास जी महाराज ने दरबार की बागडोर हाथ में ली, इसी परंपरा में वर्तमान में श्री भगत प्रकाश जी महाराज दरबार का संचालन निष्ठा से कर रहे हैं!

मुख्य संदेश है
भूखे को अन्न, प्यासे को पानी, पीडित को मधुर वाणी मिलता रहे!

संचालक श्री भगत प्रकाश जी महाराज परिचय
ब्रह्मचारी श्री भगत प्रकाश जी महाराज ने परम ब्रह्म अमरापुर गुरुजी श्री शांति प्रकाश जी से दीक्षा ली और वर्तमान में दरबार का संचालन उनके कर कमलों से हो रहा है, जिसमें समाज एवं शहर के लोग मधुर वचन एवं आशीर्वाद से लाभान्वित हो रहे हैं देशभर में हर जिले में उनकी शाखाएं हैं!

धौलपुर से इलाज कराने आए दौलत राम ने बताया कि इस तरह का प्रसाद बहुत ही स्वादिष्ट है और परिजनों को समय पर स्वल्पाहार कहीं ना कहीं हीलिंग में मदद करता है, मैं यहां पर अपने परिजन का हार्ड का इलाज कराने आया हूं मैं श्री सतनाम साक्षी अमरापुर दरबार इस कार्य के लिए दिल से धन्यवाद देता हूं!

आगरा से बच्चे का इलाज कराने आए संतोष ने बताया कि जयपुर में अपने बच्चे के लिए इलाज कराने आया हूँ, एस एम एस में सतनाम साक्षी अमरापुर दरबार की ओर से प्रसादी वितरण नित्य हो रही है, में भी डैली प्रसादी प्राप्त कर रहा हूँ, इस तरह की हेल्थी और हाइजीन प्रसाद वितरण हमें पीड़ा में राहत देता है और यह कार्यक्रम नित्य चलते रहना चाहिए!

प्रेम प्रकाश आश्रम अमरापुर दरबार जयपुर से ईखबर के लिए दामोदर सिंह राजावत की रिपोर्ट