राजनाथ ने कहा- आतंक को अपनाने वाले देशों को अलग-थलग किया जाए

0
135

नई दिल्ली । रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आतंकवाद को अपनी सरकारी नीति बना लेने वाले राष्ट्रों को अलग-थलग करने का आह्वान किया है। उनका इशारा पाकिस्तान की तरफ था। उन्होंने कहा कि आतंकवाद आज वैश्विक समस्या बना गया है।

ताशकंद में ‘डस्टलिक 2019’

ताशकंद में होने जा रहे पहले भारत-उज्बेकिस्तान संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘डस्टलिक 2019’ की पूर्व संध्या पर राजनाथ सिंह ने कहा कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों के लिए रक्षा सहयोग बहुत ही अहम है। यह युद्धाभ्यास चार से 13 नवंबर तक चलेगा।

भारत-उज्बेकिस्तान का संयुक्त सैन्य अभ्यास

रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि संयुक्त सैन्य अभ्यास से दोनों ही सेनाएं एक दूसरे के अनुभव का लाभ उठा सकेंगी, जिससे उनके परिचालन प्रभावशीलता में गुणोत्तर सुधार होगा।

आतंकवाद वैश्विक समस्या बन गई

पाकिस्तान का नाम लिए बिना सिंह ने कहा कि आतंकवाद आज वैश्विक समस्या बन गया है। कई देशों ने आतंकवाद को अपनी सरकारी नीति का हिस्सा बना लिया है। ऐसे देशों की निंदा होनी चाहिए और उन्हें अलग-थलग कर दिया जाना चाहिए।

रक्षा मंत्री ने दिया उज्बेकिस्तान को सेना के आधुनिकीकरण का भरोसा

रक्षा मंत्री ने उज्बेकिस्तान को भरोसा दिलाया कि उसकी सेना के आधुनिकीकरण और क्षमता विकास में भारतीय सैन्य बल सभी संभावित सहायता मुहैया कराएंगे।