Rain Alert: दो राज्यों के लिए मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट, बिहार-यूपी में अभी जारी रहेगी बारिश

0
56

Rain Alert: दक्षिण भारत के राज्यों कर्नाटक और तमिलनाडु में अगले पांच दिनों के लिए भारी बारिश की भविष्यवाणी की गई है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने दोनों राज्यों के लिए येलो अलर्ट जारी किया है।

Weather Updates: दक्षिण भारत के राज्यों कर्नाटक और तमिलनाडु में अगले पांच दिनों के लिए भारी बारिश की भविष्यवाणी की गई है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने दोनों राज्यों के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार, अगले 24 घंटों के लिए उत्तर आंतरिक कर्नाटक में अलग-अलग जगहों पर भारी बारिश के आसार हैं।

इसके अलावा मौसम विभाग ने 13 अक्टूबर यानी आज अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, झारखंड, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़, ओडिशा, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, गोवा, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में बारिश होने की संभावना है। वहीं, सिक्किम, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, बिहार और लक्षद्वीप में भी हल्की बारिश की संभावना जताई गई है।

मौसम विभाग ने कहा है कि लद्दाख, जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में भी अलग-अलग जगहों पर बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है।

कैसा रहेगा कल का मौसम?
मौसम विभाग द्वारा जारी पूर्वानुमान के मुताबिक, अरुणाचल प्रदेश, असम, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, गोवा, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में व्यापक बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। वहीं, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, झारखंड, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, महाराष्ट्र और लक्षद्वीप में छिटपुट बारिश की संभावना है। आईएमडी ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, सिक्किम, बिहार और मध्य प्रदेश में कल भी बारिश हो सकती है।

आपको बता दें कि 3 अक्टूबर को दक्षिण-पश्चिम मानसून के उत्तरी भारत से हटने के बाद से यह ठप हो गया है। हालांकि इस सप्ताह मध्य भारत के कुछ हिस्सों से मॉनसून के वापस जाने की संभावना है। पूर्वी भारती के राज्यों बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल में बारिश कम होने की उम्मीद है।

जहां तक तापमान की बात है तो अगले कुछ दिनों तक दिल्ली-एनसीआर का अधिकतम तापमान सामान्य की तुलना में कम रहेगा। देश के अधिकांश हिस्सों में न्यूनतम तापमान में फिलहाल कमी नहीं देखने को मिलेगी। राजस्थान और इसके आसपास के क्षेत्र अपवाद होंगे, जहां इस सप्ताह के अंत तक न्यूनतम तापमान औसत के करीब रहेगा।